scriptHundi broker caught snatching 70 crores of traders | कारोबारियों का 70 करोड़ हड़पने वाला हुंडी दलाल पकड़ा | Patrika News

कारोबारियों का 70 करोड़ हड़पने वाला हुंडी दलाल पकड़ा

ठग का खुलासा खत्म हो गया ठगा गया सारा पैसा
क्राइम ब्रांच से खाली हाथ लौटे कारोबारी हताश

ग्वालियर

Published: January 05, 2022 07:53:42 pm

ग्वालियर। फर्जी हुंडी तैयार कर कारोबारियों का करीब ७० करोड़ रू लेकर चंपत हुआ दलाल आशीष गुप्ता सामने आ गया है। ठग दलाल सारा पैसा क्रिकेट सट्टे में उड़ाने बताकर चुप हो गया है। क्राइम ब्रांच उससे पूछताछ कर रही है। दलाल से उन कारोबारियों का सामना भी कराया जिनका पैसा उनसे ठगा है। ठग आशीष ने कारोबारियों से दो टूक क दिया कि वह खाली है। उसके पास कुछ नहीं बचा है। उसने सिर्फ 40 करोड़ रूपया ऐंठा था। 70 करोड़ का आरोप गलत है। अब उसके पास फूटी कौड़ी नहीं बची है। पुलिस के सामने उसके जवाब सुनकर कारोबारी सकते में है। नहीं समझ पा रहे हैं ठगी रकम कैसे वापस मिलेगी।
Broker disclosed that 40 crores cheated
कारोबारियों का 70 करोड़ हड़पने वाला हुंडी दलाल पकड़ा
मेनावाली गली में रहने वाला हुंडी दलाल आशीष गुप्ता रात को क्राइम ब्रांच के सामने आया है। पुलिस उसे जयपुर से राउंडअप करना बता रही है। लेकिन कारोबारियों को शक है दलाल ठगी का सारा पैसा सुरक्षित ठिकाने पर पहुंचाने के बाद प्लानिंग से हाजिर हुआ है। इस एपीसोड में डबरा के सटोरिए की भूमिका भी बताई जा रही है। ठगे कारोबारियों का कहना है ठग आ गया है।
पुलिस ने मंगलवार दोपहर को बताया तो क्राइम ब्रांच थाने पहुंचे। उम्मीद थी ठग दलाल से उनका पैसा वापस मिलेगा। लेकिन ठग आशीष सारा पैसा हड़प गया। वह पुलिस के सामने ताल ठोककर कह रहा है, उसने हुंडी के नाम पर 40 करोड़ रू ऐंठा है। सारी रकम क्रिकेट के सटटे में लगाई है। दांव हार गया इसलिए किसी का पैसा नहीं लौटा सकता। उसके पास कुछ नहीं बचा है।
पिता के नाम पर जीता भरोसा , ठगा
कारोबारी दीपक बंसल, दिलीप पंजवानी ने बताया आशीष का पिता नत्थूलाल पुराना हुंडी दलाल है। बाजार में नत्थूलाल के नाम का भरोसा है। आशीष ने पिता के नाम का ही फायदा उठाया। कारोबारी उस पर सिर्फ नत्थूलाल की वजह से भरोसा करते रहे। इसलिए उसे हुंडी पर पैसा दिया। लेकिन आशीष ने पिता के नाम पर धोखा दिया। कोतवाली पुलिस ने ठगी में दलाल आशीष उसके पिता नत्थूलाल, पत्नी अंकिता सहित नौकर गणेश कुशवाह पर गबन और ठगी की एफआइआर दर्ज की थी।
इनके साथ ठगी
दिलीप पंजवानी 25 लाख, मायारानी 50 लाख, प्रीति जैसवानी 50 लाख, मनीष गोयल 5 लाख, दीपक बंसल 5 लाख, संपत देवी गर्ग 10 लाख और कन्हैयालाल मित्तल से 5 लाख रू ऐंठे।
29 करोड़ की हुडियां, बार्डर से पकड़ा
ठगी कर भागे हुंडी दलाल को ग्वालियर, मुरेना बार्डर से पकड़ा है। उससे 29 करोड की हुडियां मिली हैं। इनमें कई फर्जी हैं। दलाल सारा पैसा क्रिकेट सटटे में हारना बता रहा है। ठगी में उसके साथ कुछ और लोगों के शामिल होने की जानकारी मिली है।
राजेश दंडौतिया एएसपी क्राइम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न

बड़ी खबरें

भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज पर पहुंचा ओमिक्रॉन वेरिएंट - केंद्र सरकारUP Assembly Elections 2022 : पलायन और अपराध खत्म अब कानून का राज,चुनाव बदलेगा देश का भाग्य - गृहमंत्री शाहराजपथ पर पहली बार 75 एयरक्राफ्ट और 17 जगुआर का शौर्य प्रदर्शन, देखें फुल ड्रेस रिहर्सल का वीडियोहेट स्पीच को लेकर हिन्दू संगठन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, कहा-मुस्लिम नेताओं की भी हो गिरफ्तारीPriyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलनाआज 6 बजे इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा, पीएम मोदी ने दी जानकारीसुबह 6 बजे टाइम कीपर के घर EOW का छापा, मकान देख दंग रह गए अफसरबसपा प्रत्याशी के पास सबसे अधिक गाडियाँ, अरिदमन हथियार रखने में आगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.