देह व्यापार के नाम पर ऑनलाइन हो रही ठगी, बदनामी के डर से नहीं आ रहे सामने

देह व्यापार के नाम पर ऑनलाइन हो रही ठगी, बदनामी के डर से नहीं आ रहे सामने

Rizwan Khan | Publish: Jan, 15 2019 01:00:00 AM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

ऑनलाइन देह व्यापार के नाम पर ठगी करने वालों का गिरोह काफी सक्रिय है। यह लोग कॉल गर्ल ही नहीं बल्कि मेल स्कॉट भी उपलब्ध कराने का दावा करते हैं। इस गिरोह के जाल में फंसकर कई

ग्वालियर। ऑनलाइन देह व्यापार के नाम पर ठगी करने वालों का गिरोह काफी सक्रिय है। यह लोग कॉल गर्ल ही नहीं बल्कि मेल स्कॉट भी उपलब्ध कराने का दावा करते हैं। इस गिरोह के जाल में फंसकर कई लोग मेहनत की कमाई इनके हवाले कर चुके हैं लेकिन बदनामी के डर से पुलिस से शिकायत करने नहीं जाते। चुप होकर बैठ जाते हैं। कुछ ने हिम्मत दिखाकर शिकायत की तो ठग पकड़े भी गए। यह लोग महिलाओं के साथ दूसरी तरह से भी ठगी करते हैं। उनके अश्लील फोटो और वीडियो की बात लिखकर लिंक ओपन करने के लिए मजबूर करते हैं। महिला लिंक आपन करती हैं तो उसकी फेसबुक आइडी हैक हो जाती है। आइडी वापस करने के नाम पर उनसे पैसे ठगे जाते हैं।

ठगी की रकम से लग्जरी कार, आलीशान मकान
देह व्यापार के नाम से ठग लाखों की संपत्ति बना चुके हैं। राज्य साइबर पुलिस ने यूपी का एक ठग अंकित तो पकड़ा तो उसकी लाइफ स्टाइल देखकर हैरान रह गई। उसका आलीशान मकान था। घर के बाहर लग्जरी कार थी। घर में कई नौकर काम कर रहे थे।

शिक्षित युवक दे रहे ठगी को अंजाम
इस काम को कई पढ़े-लिखे नौजवान अंजाम दे रहे हैं। वह कम समय में अमीर बनना चाहते हैं। उनके शौक भी महंगे हैं। उन्हें पूरा करने के लिए ऑनलाइन ठगी का धंधा कर रहे हैं। बरेली (यूपी) का सरफराज आजम अंसारी जो प्रतिष्ठित संस्था से बीटेक कर रहा था। महिलाओं के साथ ठगी करता था।

मामला नंबर एक
शहर के एक व्यापारी ने लोकेन्टो साईट खंगाली तो कॉल गर्ल का वहां ऑफर था। उसने उस पर दिए नंबर पर बात की तो एक युवक बोला। उसने कहा देशभर में कही भी सुविधा उपलब्ध करा देगा। व्यापारी बोला उसे ग्वालियर में चाहिए। युवक ने कहा 2 हजार रुपए का रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई होगी। उसने व्यापारी से अपने पेटीएम में पैसे ट्रांसफर करवा लिए। इसके बाद फोन लगाया तो उसने बंद कर लिया। व्यापारी समझ गया उसके साथ ठगी हो गई है।

मामला नंबर दो
स्नातक छात्र ने भी पर्सनल एड साइट पर कॉर्ल गर्ल की जानकारी देखी। उसने फोन से बातचीत की तो ठग बोला- 20 हजार रुपए देना होंगे। होटल बुकिंग की सारी सुविधाएं उपलब्ध करा देगा। उसने पेटीएम से रकम भी डलवा ली। ठग ने बकायदा उसे शहर के नामचीन होटल की बुकिंग की स्ल्पि भेज दी। छात्र से बोला होटल में कॉलगर्ल मिल जाएगी। छात्र जब होटल पहुंचा तो न तो कॉल गर्ल आई न ही बुकिंग के पैसे जमा हुए थे। उसे समझ में आया वह ठगा गया है।

मामला नंबर तीन
कालपी (जालोन) निवासी अंकित द्विवेदी उर्फ सोनू ने एस्कॉर्ट सर्विस के नाम से कई फेसबुक पेज बना रखे थे। जिसमें ऑनलाइन कॉलगर्ल उपल्ब्ध कराने का दावा करता था। उसके इस जाल में लश्कर का एक युवक फंस गया। उसने संपर्क किया तो उससे वॉलेट में 10 हजार रुपए डलवा लिए। ठगी होने पर उस युवक ने राज्य साइबर सेल में शिकायत की इस पर उसे दबोच लिया गया।

इनका कहना है
एसी शिकायतें करने से व्यक्ति बचता है। हमें साइट के बारे में जानकारी मिली थी। जांच की तो कई खुलासे हुए। कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया।
सुधीर अग्रवाल, एसपी राज्य साइबर सेल ग्वालियर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned