कभी भी बढ़ सकता है कम्युनिटी संक्रमण का असर, इसलिए रहना होगा सावधान

इस समय सबसे ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है....

By: Ashtha Awasthi

Published: 06 Jul 2021, 05:27 PM IST

ग्वालियर। कोरोना का संक्रमण कम तो हो गया है, लेकिन अभी खत्म नहीं हुआ है। जून के महीने में संक्रमण का ग्राफ काफी तेजी से गिरा है। इसके चलते एक दिन संख्या शून्य पर आ जाती है तो दूसरे ही दिन यह संख्या बढ़कर दो से तीन पर पहुंच जाती है। इसके आधार पर कहा जा सकता है कि कम्युनिटी में संक्रमण का असर तो है, यह असर कभी भी बढ़ सकता है। इसको रोकने के लिए इस समय सबसे ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है। क्योंकि जरा सी भी लापरवाही किसी भी दिन भारी पड़ सकती है।

चेहरे से मास्क हुए गायब

बाजारों में इस समय लोग बिना मास्क लगाए ऐसे घूम रहे हैं जैसे कोरोना संक्रमण पूरी तरह खत्म हो गया है। उन्हें न तो अपनी चिंता है और न परिवार की, जबकि तीसरी लहर आने को लेकर इस समय जिला प्रशासन इस पर रोक के लिए काफी प्रयास कर रहा है। फिर भी लोग लापरवाही बरत रहे है। इसलिए लोगों को चाहिए कि अभी तीसरी लहर को रोकने के लिए मास्क और सोशल डिस्टेंसिग को बनाए रखना बहुत जरूरी है। अगर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग को नहीं अपनाया तो इसके घातक परिणाम देखने को मिल सकते हैं।

171 आए जून में संक्रमित

लगातार तीन महीने से कोरोना के मरीजों की संख्या एक साथ बढ़ी थी, लेकिन जून महीने में यह संख्या काफी कम हो चुकी है। जहां दूसरी लहर में मार्च में 1125, अप्रैल में 21974, मई में 13437 और जून महीने में यह संख्या घटकर 171 पर आ गई है।

डॉ. अजयपाल सिंह, मेडिसिन, विभाग जीआरएमसी का कहना है कि कोरोना विश्व व्यापक बीमारी है। इसके बचने के लिए सतर्क रहने की आवश्यकता है। कोरोना बाहर से भी आने वाले लोगों से बढ़ सकता है। वर्तमान में कोरोना के मरीज कम हुए हैं, लेकिन खतरा टला नहीं है। इससे सभी को अलर्ट रहने की जरूरत है। मास्क आदि लगाने से ही इससे बचा जा सकता है।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned