#CoronaKeKarmvir : ये हैं परदे के पीछे के कर्मवीर, रोजाना बांटते हैं 5000 फूड पैकेट

23 मार्च से बन रहा भोजन, हर दिन का अलग मेन्यू

By: monu sahu

Updated: 18 Apr 2020, 05:36 PM IST

ग्वालियर। कोरोना वायरस से शहर को बचाने में जितना योगदान पुलिस, डॉक्टर और सफाईकर्मियों का है, उतना ही योगदान परदे के पीछे रहने वाले ऐसे कर्मवीरों का भी है, जिन्होंने हर हाल में रोज कमाने खाने वालों का पेट भरने की जिद पाल रखी है। केटर्स हलवाई क्रॉकरी व्यवसाई संघ ग्रेटर ग्वालियर ने फालका बाजार में 23 मार्च से रसोई बना रखी है,जिसका हर दिन अलग मेन्यू होता है। बनने का काम सुबह 6 बजे से दोपहर 3 बजे तक चलता है। हर दिन 5000 पैकेट खाना तैयार होता है और जरूरतमंदों तक पहुंचता है। लॉकडाउन बढऩे के बाद भी इस ग्रुप का हौसला कम नहीं हुआ। संस्था के अध्यक्ष राजेन्द्र गुप्ता कहते हैं कि हमारी यह सेवा तब तक चलेगी, जब तक लॉकडाउन रहेगा।

India fights Covid-19 : youth distributes 5000 food packets daily gwaliorIndia fights Covid-19 : youth distributes 5000 food packets daily gwalior

एक दिन में 30 हजार रुपए खर्च
संघ के सचिव प्रदीप जैन ने बताया कि हर दिन 6 बोरे आलू, लगभग 4 कुंतल आटा, 75 किलो चावल लगता है, जिस पर लगभग 30 हजार रुपए खर्च आता है। यह सेवा सभी के सहयोग से चल रही है। जब पैसे कम होते हैं, तो मदद के लिए हाथ बढ़ा देते हैं। कई बार ऐसा भी हुआ जब पैसे न हुए, तो उधार समान लेकर पैकेट पूरे किए।

जिनका कोई नहीं, उनके लिए हम
राजेन्द्र गुप्ता ने बताया कि हमारे साथ 70 लोग सेवाएं दे रहे हैं। इनमें युवा, बुजुर्ग, महिलाएं सभी शामिल हैं। हम ऐसे लोगों तक खाना पहुंचते हैं, जो बाहर से हैं और कहीं न कहीं फंसे हुए हैं। जया रोग्य हॉस्पिटल, स्लम एरियाज और अन्य जरूरी इलाकों में हमारी टीम पहुंचती है। सैकड़ों लोग फालका बाजार से ही पैकेट लेकर जाते हैं। बाकि डिमांड के अनुसार भोजन पहुंचता है।

India fights Covid-19 : youth distributes 5000 food packets daily gwalior

लोगों की भूख मिटाने माड़ रहे आटा
इस टीम में ऐसे युवा भी शामिल हैं, जो प्रोफेशनल डिग्री ले चुके हैं। वे बाइयों के साथ बैठकर आटा माड़ रहे हैं। इनमें इंजीनियरिंग कर चुके देवांश जैसे कई युवा हैं। इन्होंने कभी भी किचन को हाथ नहीं लगाया,लेकिन लोगों की भूख मिटाने के लिए पूरा-पूरा दिन सेवा में लगे हुए हैं।

India fights Covid-19 : youth distributes 5000 food packets daily gwalior

शाम को खिलाते हैं गाय को चारा
इस ग्रुप का काम यहीं खत्म नहीं होता। शाम होते ही ये गाड़ी में चारा रखकर गायों को खिलाने निकल जाते हैं। इसमें लगभग 5 से 6 मेंबर्स होते हैं, जो सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो करते हैं।

monu sahu
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned