'ज्योतिरादित्य सिंधिया के जाने के बाद तीन भागों में बंट गई है बीजेपी, शिवराज, महाराज और नाराज भाजपा'

दिग्विजय सिंह के विधायक पुत्र जयवर्धन सिंह ने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर कसा तंज...। सिंधिया समर्थक मंत्री तुलसी सिलावट ने किया पलटवार...।

By: Manish Gite

Updated: 26 Aug 2021, 12:09 PM IST

ग्वालियर। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के विधायक पुत्र जयवर्धन सिंह का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि जब से ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) बीजेपी में गए हैं, तब से बीजेपी तीन हिस्सों में बंट गई है। जयवर्धन ने कहा कि एक है शिवराज भाजपा, दूसरी है महाराज भाजपा और तीसरी है नाराज भाजपा।

 

पूर्व मंत्री एवं राघोगढ़ से कांग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह बुधवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया (civil aviation minister of india) के क्षेत्र में थे। वे मुरैना में शहीदों के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेकर ग्वालियर लौटे थे। उन्होंने यहां बीजेपी और सिंधिया पर तीखे प्रहार किए। उन्होंने कहा कि सिंधिया के जाने के बाद कांग्रेस में गुटबाजी खत्म हो गई है और बीजेपी में बढ़ गई है। ग्वालियर-चंबल में नरेंद्र सिंह तोमर, वीडी शर्मा और ज्योतिरादित्य सिंधिया के गुट हैं।

 

जयवर्धन (Jaivardhan Singh ) ने वैक्सीनेशन के महाभियान के बारे में कहा कि सरकार को विस्तृत कार्यक्रम बनाना चाहिए। बीजेपी को कांग्रेस से सीख लेना चाहिए कि जिस तरह से कांग्रेस ने पोलियो के खिलाफ अभियान चलाया उसी तरह वैक्सीनेशन को बढ़ावा देना चाहिए। जिस गति से टीकाकरण चल रहा है उससे नहीं लगता कि यह इस साल पूरा हो जाएगा। जयवर्धन ने ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में आई बाढ़ के बारे में कहा कि लोग भूख से बेहाल हैं। आर्थिक सहायता नहीं मिली है और बीजेपी अन्न उत्सव मना रही है। राशन के बैग पर अपना फोटो छापे जा रहे हैं। कांग्रेस कभी प्रचार नहीं करती। बीजेपी और प्रधानमंत्री को कांग्रेस से सीखना चाहिए।

 

ओबीसी पर बोली यह बात

जयवर्धन ने ओबीसी (Obc) पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब कमलनाथ मुख्यमंत्री थे, तब कांग्रेस ने तय किया था कि ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण मिले। लेकिन, जैसे ही सरकार बदल गई, कोर्ट में जवाब पेश किया कि जो 13 फीसदी से 14 फीसदी अतिरिक्त आरक्षण होना है यह अभी संभव नहीं है। जयवर्धन ने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार ने ही ओबीसी के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है।

Congress BJP Jyotiraditya Scindia
Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned