जल गया अहंकार

- शौर्य और सद्भाव के साथ मनाया गया विजयादशमी पर्व, सोमवार को भी मनेगा दशहरा

By: Narendra Kuiya

Published: 25 Oct 2020, 10:39 PM IST

ग्वालियर. शहर में असत्य पर सत्य की जीत के पर्व के रूप में विजयादशमी का त्योहार शौर्य और सद्भाव के साथ मनाया गया। सुबह गली-मोहल्लों में लेकर पहुंचे नीलकंठ पक्षी के लोगों ने दर्शन किए। वहीं इस बार कोविड-19 के चलते छत्री प्रांगण में होने वाला रावण दहन और चल समारोह का आयोजन नहीं हुआ। इसके साथ ही दीनदयाल नगर, जीवाजी क्लब आदि जगहों पर भी रावण के पुतलों का दहन नहीं किया गया। जहां पुतलों का दहन हुआ वहां छोटे कद के रावण के पुतले जलाए गए। कुछ लोग दशहरे का पर्व सोमवार 26 अक्टूबर को भी मनाएंगे।

रावण, कुंभकरण और मेघनाद का हुआ दहन
कोरोना संक्रमण के कारण शहर में भले ही रावण, कुंभकरण और मेघनाद के बड़े पुतले नहीं जलाए गए हों लेकिन गली, मोहल्लों और कॉलोनियों में इनका दहन किया गया। वहीं दशहरा उत्सव समिति सी ब्लॉक थाटीपुर में 14 फुट के रावण दहन किया गया। छप्परवाला पुल पर रात तक रावण के पुतलों की बिक्री हुई, लेकिन कोरोना के कारण इनकी बिक्री पिछले वर्ष की तुलना में कम ही रही है।

वाहनों और शस्त्रों का हुआ पूजन
विजयादशमी के अवसर पर घरों और कार्यालयों में वाहनों और शस्त्रों का पूजन विधि विधान के अनुसार किया गया। इस मौके पर लोगों ने अपने वाहनों की धुलाई करके उन्हें माला पहनाई और लड्डू का भोग भी लगाया। कई लोगों ने घरों में रखे शस्त्रों की पूजा भी की, हालांकि जिन लोगों की बंदूकें चुनाव के चलते थानों में जमा है वे पूजा नहीं कर पाए। वाहन धुलवाने के लिए नौगजा रोड पर बड़ी संख्या में लोग पहुंचे।

सिंधिया ने देवघर में की पूजा
पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया दशहरे के अवसर पर रविवार को ग्वालियर में मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने मांडरे की माता के नीचे मैदान पर होने वाला पारंपरिक शमी पूजन नहीं किया। लेकिन दोपहर में मांडरे की माता एवं गोरखी स्थित देवघर में कुलदेवता की पूजा-अर्चना करने पहुंचे।

ये हुए कार्यक्रम
- लोको युवा समिति की ओर से इस बार रावण के पुतले का दहन न करते हुए बच्चों को उपहार बांटे गए।
- दीनदयाल नगर चेतना मंच की ओर से पुतला दहन की जगह दोपहर दो बजे से बच्चों को राम, लक्ष्मण और सीता के रूप में पूजने का कार्यक्रम किया गया।
- हठयोगी सद्गुरु अण्णा महाराज मठ में अण्णा महाराज का जन्मोत्सव व शमी पूजन किया गया।
- हुजरात पुल स्थित कुंबर बाबा मंदिर पर दशहरा पूजन एवं महाआरती की गई।
- बजरंग दल और विहिप ने हनुमान मंदिर लक्कडख़ाना पुल पर शस्त्र पूजन कार्यक्रम आयोजित किया।
- गंगादास की बड़ी शाला के महंत रामसेवक दास महाराज ने बताया कि सोमवार को दोपहर 12 बजे देवपूजन, गुरू गद््दी पूजन के उपरांत सदियों पुराने शस्त्रों का पूजन किया जाएगा।

Narendra Kuiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned