जीजा की हत्या कर दी , वजह थी खाना न बनाने की जिद

करियावटी स्थित सांखनी रोड पर देसी शराब की दुकान पर पांच दिन पूर्व हुआ था हत्याकांड

By: shyamendra parihar

Published: 10 Feb 2018, 05:08 PM IST

ग्वालियर. करियावटी स्थित सांंखनी रोड क्षेत्र में देशी शराब दुकान के सेल्समैन की हत्या के मामले में पुलिस ने पांच दिन बाद शुक्रवार को हत्या का खुलासा किया है। हत्या मृतक के करीबी ने की थी जो उसके साथ ही रहता था। हालांकि पुलिस ने संदेह के आधार पर करीबी को उसी दिन पकड़ लिया था पर वह पुलिस को गुमराह कर रहा था और अंत में सारा राज उगल दिया।

अरविंद(25) पुत्र शिवचरण रावत निवासी पचोखरा गोराघाट एक साल से करियावटी के सांखनी में कुसुमा मोहल्ले में देशी शराब की दुकान (कलारी) पर सेल्समैन था। वह दुकान में ही रहता था। उसका करीबी रामवरन (23) पुत्र चंदन सिंह निवासी सबराई घाटीगांव भी उसी के साथ रहकर शराब की दुकान पर काम करता था। 4 फरवरी की रात 10 बजे अरविंद की पिस्टल से गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने संदेह के आधार पर करीबी रामवरन से पूछताछ की।
एसडीओपी निवेदिता गुप्ता के निर्देशन में पुलिस की एक टीम ने जांच की तो पुलिस को हत्या में करीबी के हाथ होने की आशंका लगी। कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गया।उसने पुलिस को बताया कि घटना वाली रात वह और उसका बहनोई अरविंद शराब पी रहे थे इसी दौरान खाना बनाने को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया और तैश में आकर उसने अरविंद की पिस्टल छुड़ाकर उसमें गोली मार दी जिससे उसकी मौत हो गईऔर वह मौके से गायब हो गया ताकि उस पर शक न हो। रामवरन ने पुलिस को वह पिस्टल भी जब्त कराई।

रामवरन था सौतेला साला: मृतक अरविंद का रामवरन सौतेला करीबी था। अरविंद के ससुर की दो पत्नियां थी। पहली पत्नी की मौत के बाद उसके ससुर ने दूसरी शादी की थी। पहली पत्नी की संतान रामवरन था जबकि दूसरी पत्नी की तीन पुत्रियां थी। इन्ही में से एक से अरविंद की शादी हुई थी।

खुलासा करने वाली टीम पुरस्कृत

हत्या का खुलासा करने वाली टीम को पुलिस अधीक्षक डा.आशीष कुमार ने पांच हजार रुपए नकद देने की घोषणा की। टीम में भितरवार थाना प्रभारी रमेश शाक्य, थाना प्रभारी चीनोर जितेन्द्र सिंह तोमर,आरक्षक नीरज प्रजापति,अरुण शर्मा एडी स्क्वाड के जितेन्द्र तिवारी एवं राजपाल शामिल हैं।

 

shyamendra parihar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned