हमें दो साल घुमाया, मैं क्यों क्लोज करूं शिकायत, जिसकी नौकरी जानी है जाए: कुलपति प्रो.संगीता शुक्ला

Gaurav Sen

Publish: Dec, 07 2017 11:35:23 (IST)

Gwalior, Madhya Pradesh, India
हमें दो साल घुमाया, मैं क्यों क्लोज करूं शिकायत, जिसकी नौकरी जानी है जाए: कुलपति प्रो.संगीता शुक्ला

यहां तक कि कुलपति प्रो.शुक्ला और कुलसचिव डॉ.आनंद मिश्रा ने खुद फोन लगाकर आवेदक छात्र से पहले समस्या का हल जाना। इसके बाद शिकायत को क्लोज करने की बात क

ग्वालियर। जीवाजी यूनिवर्सिटी (जेयू) में सीएम हेल्पलाइन के तहत आई पिछले एक साल में आईं 11672 शिकायतों में से 6 हजार शिकायतों को जबरन (फोर्स क्लोज) बंद करने के मामले में कुलपति प्रो.संगीता शुक्ला की फटकार के बाद अधिकारी पूरे दिन प्रकरणों की समीक्षा में लगे रहे।

 

 

यह भी पढ़ें: आपके पास भी नहीं है आधार कार्ड? तो आपको भी हो सकती है इस व्यक्ति जैसी परेशानियां

 

यहां तक कि कुलपति प्रो.शुक्ला और कुलसचिव डॉ.आनंद मिश्रा ने खुद फोन लगाकर आवेदक छात्र से पहले समस्या का हल जाना। इसके बाद शिकायत को क्लोज करने की बात कही। इन शिकायतों में 2014 से 2017 तक की शिकायतें शामिल की गई हैं। जेयू के भंडारकर कक्ष के अलावा सांख्यकी अधिकारी प्रदीप शर्मा के दफ्तर में शिकायतों का प्रिंट निकालकर उनकी समीक्षा की गई।

 

यह भी पढ़ें: गिरफ्तारी की तलवार से बचने मंत्रालय में बैठे रहे लाल सिंह आर्य, पुलिस खोजती रही गोहद में

समीक्षा में डीआर अरुण चौहान, सांख्यकी अधिक ारी प्रदीप शर्मा प्रकरणों की खुद समीक्षा करते नजर आए। इसके साथ करीब दो दर्जन से अधिक कर्मचारी भी काम में जुटे रहे। इस दौरान छात्रों से बात करने पर उनके अनुभव ठीक नहीं रहे। छात्रों का स्पष्ट कहना था कि उन्हें शिकायत का निराकरण करने के लिए कई महीनों घुमाया। अब उन्हें शिकायत हल होने के बाद भी क्लोज नहीं करनी। जिसकी नौकरी जानी है चली जाए, उन्हें इससे कोई मतलब नहीं। वहीं ज्यादातर छात्रों ने शिकायत क्लोज संबंधी बात की जानकारी होने से मना कर दिया। समस्याओं की समीक्षा के लिए देर रात तक कुलसचिव डॉ.आनंद मिश्रा अपनी टीम के साथ जेयू में डटे रहे। 70 प्रतिशत शिकायतों की समीक्षा की जा चुकी हैं, बांकी ३० प्रतिशत मामलों की समीक्षा गुरुवार को होगी।

 

 

यह भी पढ़ें: OKHI CYCLONE AFFECT: ओखी ने बढ़ार्ई सर्दी ठंड से कांपे लोग, किसानों के लिए बरसा अमृत

 

 

कल भोपाल में रखेंगे अपना पक्ष
सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों को फोर्स क्लोज करने के मामले में जेयू के प्रतिनिधि सांख्यिकी अधिकारी प्रदीप शर्मा, डीआर राजीव मिश्रा, डीआर अरुण चौहान 8 दिसम्बर को आयुक्त नीरज मंडलोई के समक्ष अपना पक्ष रखेंगे। सूत्रों की मानें तो शिकायतों का ग्राफ इसलिए बढ़ा क्यों कि छात्र समस्या हल होने के बाद उसकी जानकारी वेब पर दर्ज नहीं की। छात्र को समस्या के निराकरण के बाद पोर्टल पर जानकारी देकर शिकायत को बंद कर देना चाहिए था, लेकिन ज्यादातर छात्रों ने ऐसा नहीं किया।

सीएम हेल्पलाइन में फोर्स क्लोज शिकायतों का ग्राफ इसलिए बढ़कर आया क्यों कि छात्र ने समस्या ऑनलाइन क्लोज नहीं की। मैंने खुद कई छात्रों से बात की। फिलहाल हमने अपनी समीक्षा रिपोर्ट तैयार कर ली है। हमारे प्रतिनिधि ८ दिसम्बर को भोपाल में आयोजित बैठक में अपना पक्ष रखेंगे।
प्रो.संगीता शुक्ला, कुलपति,जेयू

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned