डिप्टी रेंजर की हत्या के बाद कमलनाथ ने सीएम शिवराज से पूछा सवाल, BJP को चुनाव में पड़ेगा भारी

डिप्टी रेंजर की हत्या के बाद कमलनाथ ने सीएम शिवराज से पूछा सवाल, BJP को चुनाव में पड़ेगा भारी

Gaurav Sen | Publish: Sep, 07 2018 07:09:19 PM (IST) | Updated: Sep, 07 2018 07:21:12 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

डिप्टी रेंजर की हत्या के बाद कमलनाथ ने सीएम शिवराज से पूछा सवाल, भाजपा को चुनाव में पड़ेगा भारी

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के ग्वालियर चंबल संभाग में अवैध खनन और खनन माफियों के बढ़ते राज ने प्रशासन पुलिस और लोगों को परेशान कर रखा हैं। यह अवैध खनन माफिया आए दिन एक न एक कारनामा चंबल संभाग में करते रहते हैं। अभी अवैध खनन को लेकर एक पत्रकार की मौत को एक साल पूरा भी नहीं हुआ कि शुक्रवार की सुबह इन अवैध खनन माफियाओं ने वन विभाग के डिप्टी रेंजर की जान ले ली। खनन माफियाओं ने 50 वर्षीय डिप्टी रेंजर की जान बूझकर ट्रैक्टर-ट्राली से कुचल कर हत्या कर दी है ।

 

यह भी पढ़ें : Breaking : एससी-एसटी एक्ट : भाजपा के चार दिग्गज सवर्ण नेताओं का इस्तीफा,हिली मोदी सरकार

 

जैसे ही खनन माफियाओं द्वारा डिप्टी रेंजर की मौत की सूचना कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ को मिली उन्होंने तुंरत ही प्रदेश की भाजपा सरकार और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को घेरते हुए ट्वीट पर पूछा है कि रेत माफियाओं का बढ़ते अपराध कैसे रूकेंगे और हत्याओं का ये सिलसिला कब थमेगा।

 

यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : अब ये होंगे अटल बिहारी वाजपेयी की करोड़ों रुपयों की संपत्ति के मालिक

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने अपने ट्विटर हैंडल पर सीएम पर धावा बोलते हुए पोस्ट किया है कि शिवराज सरकार में प्रदेश में रेत माफिय़ाओ के हौसले बुलंद है पूर्व में भी रेत माफिय़ाओं द्वारा मूरैना में एक आइपीएस नरेन्द्र कुमार की हत्या,फिर मुरैना में डिप्टी रेंजर सूबेदार सिंह की रेत माफिय़ाओं द्वारा हत्या की खबर है आखिर प्रदेश में अवैध रेत उत्खनन और निर्दोषो की हत्या कब रुकेगी ?

 

यह भी पढ़ें : BREAKING NEWS: रेत माफिया ने डिप्टी रेंजर को कुचला, मौके पर हुई मौत बेखौफ रेत खनन वाले

 

वहीं इस मामले को लेकर मुरैना के पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया कि डिप्टी रेंजर सूबेदार सिंह कुशवाह की रेत माफियाओं ने ट्रैक्टर से कुचलकर सुबह करीब आठ बजे हत्या कर दी है। उन्होंने कहा कि वह मुरैना के निकट राष्ट्रीय राजमार्ग-3 पर बनी वन विभाग की चेक पोस्ट पर अपने साथियों सहित ड्यूटी पर तैनात थे तभी यह हादसा हुआ।

 

उन्होंने कहा कि चम्बल घडिय़ाल अभ्यारण्य एरिया से अवैध रेत उत्खनन व परिवहन रोकने के लिए यहां जिला टॉस्क फोर्स ने यहां वन चेक पोस्ट बनाई है। उन्होंने बताया की इस घटना के बाद अवैध रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली को रेत माफिया मौके से लेकर भाग गए ।

 

हालांकि आसपास के एरिया में लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से आरोपियों की पहचान की जा रही है। मुरैना में खनन माफियाओं द्वारा वन विभाग के डिप्ट रेंजर की हत्या को कांग्रेस विधानसभा चुनाव में बडा मुद्दा बना सकती है। वहीं भाजपा सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट कर इसकी शुरुआत कर दी है। साथ ही कांग्रेस के अन्य नेताओं ने भी भाजपा पर इस हत्या को लेकर जमकर निशाना साधा ।

 

की जा रही है जांच

डिप्टी रेंजर की मौत के बाद मुरैना एसपी ने पत्रिका से बातचीत करते हुए बताया कि घटना में संलिप्त अभी किसी भी ट्रैक्टर-ट्रॉली चालक व मालिक का कोई पता नहीं चल सका है। सिविल लाइन पुलिस थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ के भादंवि की धारा 302 (हत्या) के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। साथ ही पुलिस और वन विभाग की टीमें आरोपियों की तलाश कर रही है। वन विभाग के डिप्टी रेंजर का अभी पोस्टमार्टम किया जा रहा है ।

Ad Block is Banned