जिला अस्पताल भी होगा अब कोविड हॉस्पिटल, 150 बेड होंगे आरक्षित, बिड़ला में रहेंगे 100

हर दिन औसतन 60 से 100 तक कोविड मरीजों की संख्या पहुंच रही है। मंगलवार को भी 61 कोविड पॉजीटिव मरीज सामने आए हैं और इसके साथ ही अब जिले में 3100 कोरोना संक्रमित हो गए हैं...

ग्वालियर. हर दिन औसतन 60 से 100 तक कोविड मरीजों की संख्या पहुंच रही है। मंगलवार को भी 61 कोविड पॉजीटिव मरीज सामने आए हैं और इसके साथ ही अब जिले में 3100 कोरोना संक्रमित हो गए हैं। आने वाले समय में संक्रमण बढऩे के साथ ही पॉजीटिव मरीजों के और बढऩे की संभावना है। मरीजों की संख्या को ध्यान में रखकर अब जिला अस्पताल को भी कोविड हॉस्पिटल के रूप में बदला जा रहा है। अस्पताल के 150 बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित होंगे। जबकि बिड़ला अस्पताल मेंं भी 100 बेड तैयार किए जा रहे हैं। इन सभी बैडों पर ऑक्सीजन की सुविधा रहेगी। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बीते तीन दिन में लगातार अस्पताल में पहुंचकर बेड तैयार कराने के काम को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए अधिकारियों से कहा है। इसके साथ ही इंसीडेंट कमांडरों को भी अब एक्टिव मोड मेंं रहकर काम करने की नसीहत दी है।


तीन जगह नई व्यवस्था
- टीबी अस्पताल में 80 बेड तैयार करने का काम लगभग पूरा हो गया है।
- बिड़ला अस्पताल में 100 बेड तैयार किए जा रहे हैं।
- जिला अस्पताल में 150 बेड तैयार होंगे।


ऑक्सीजन पर फोकस
अभी तक 20 लोगों की डेथ कोविड संक्रमण की वजह से हो चुकी है। बीते दस दिन से नियमित अंतराल में मरीजों की डेथ हो रही है। इसके साथ ही बीते तीन दिन से ऑक्सीजन की जरूरत लगातार बढ़ी है। तीन दिन में 109 मरीजों को ऑक्सीजन लग चुकी है। संक्रमण की स्थिति को देखते हुए अब प्रशासन का फोकस ऑक्सीजन की आवश्यकता को हर हाल में पूरा करना है। इसके साथ ही अब जो बैड तैयार कराए जा रहे हैं, उन सभी पर ऑक्सीजन की व्यवस्था रहेगी ताकि आवश्यकता पडऩे पर मरीज को तुरंत लगाई जा सके।


ले सकते हैं मैटरनिटी होम
अभी मैटरनिटी वार्ड में प्रसूताओं के लिए सुविधा जारी रहेगी। आने वाले समय में अगर मरीजों की संख्या बढ़ी तो मैटरनिटी वार्ड के 70 बैड भी तैयार करके कोविड वार्ड के रूप में इस्तेमाल किए जाएंगे।


मरीजोंं की संख्या बढ़ रही है, संभावना को ध्यान में रखकर हम जिला अस्पताल को कोविड हॉस्पिटल में बदल रहे हैं। इसके साथ ही बिड़ला हॉस्पिटल में भी 100 बैड तैयार हो रहे है। जिला अस्पताल मेंं अगर मरीजों की संख्या बढ़ी तो यहां के मैटरनिटी वार्ड को भी कोविड वार्ड के रूप में बदला जाएगा। सभी इंसीडेंट कमांडरों को क्षेत्र मेंं नियमित मॉनीटरिंग और एक्टिव मोड में रहकर काम करने के निर्देश दिए गए हैं।
कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, कलेक्टर

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned