8 वीं पास मजदूर खरीदता था के्रडिट कार्ड का डेटा खाते से उडाता था पैसा

आनलाइन हासिल करता था एटीएम क्रेडिट कार्ड का डाटा

पुनीत श्रीवास्तव @ग्वालियर। पल्लेदारी करने वाला मजदूर बैंक खातों से ऑनलाइन पैसा चोरी करने में पकड़ा गया है, उसके मोबाइल में वह वॉलेट भी मिल गया है जिसमें खातों से चोरी का पैसा मंगाता था। पुलिस के शिकंजे में आने के बाद मजदूर दलील दे रहा है कि वह तो ८ वीं पास है उसे अंग्रेजी तो दूर की बात हिंदी तक सलीके से पढऩा नहीं आती फिर वह कैसे ऑनलाइन खातों से पैसा चोरी कर सकता है। उसका मोबाइल फोन जरुर कई लोग इस्तेमाल करते रहे हैं उनमें किसी ने वॉलेट बनाकर पैसा चोरी किया है तो उसे नहीं पता, लेकिन साइबर सेल उसकी बातों पर भरोसा नहीं कर रही है।
साइबर सेल एसपी सुधीर अग्रवाल ने बताया बहोडापुर में रहने वाले संजीव कौरव के के्रडिट कार्ड के जरिए दो बार ४९ हजार ९०० रुपए चोरी हो गए। संजीव के पास न तो कोई कॉल आया, न ठगों ने उनसे ओटीपी पूछा इसलिए संजीव को पता नहीं चला कि बैंक खाते से पैसा चोरी हो चुका है। जब बैंक एकाउंट चेक किया तो रकम गायब मिली। उसकी शिकायत साइबर सेल से की। तफ्तीश में पता चला कि उनके क्रेडिट कार्ड का डाटा डार्क वेव के जरिए चोरी किया गया है। उसे ठग ने हैकर से खरीद कर उनके बैंक खाते और के्रडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी बेची है। खरीदार ठग ने इस डाटा के आधार पर ही उनके खाते से पैसा चोरी किया है। संजीव के बैंक खाते से रवि खान निवासी बामौर के इ-वॉलेट में उनके खाते से निकाला गया पैसा जमा होना पता चला तो रवि को पकड़ा। पुलिस का कहना है कि रवि पढा लिखा नहीं होने की दलील दे रहा है, उसका मोबाइल फोन कौन इस्तेमाल करता था इसका भी पता लगाया जा रहा है।
मोबाइल रीचार्ज कर महिला ग्राहक से दोस्ती फिर किया ब्लेकमेल
ग्वालियर। मोबाइल रीचार्ज कराने के लिए दुकान पर आई युवती से कारोबारी ने दोस्ती गांठी, फिर उसके इश्क फरमाना शुरु कर दिया। धीरे से कारोबारी ने उससे पैसों मांग शुरु की। जब युवती ने विरोध किया तो उसे बदनाम करने के लिए उसके साथ खींचे गए फोटो उसके रिश्तेदारों को व्हाटसएप करने लगा। धमकी भी दी कि उसके लिए पैसों का इंतजाम करो नहीं तो इसी तरह बदनाम करता रहेगा। साइबर सेल एसपी सुधीर अग्रवाल ने बताया कि ग्वालियर निवासी युवती की मेहगांव में रिश्तेदारी है, कुछ समय पहले वह वहां गई थी। मोबाइल रीचार्ज कराना था तो हरिओम शर्मा की दुकान पर गई। हरिओम ने फोन तो रीचार्ज कर दिया उसके पैसे नहीं लिए। युवती से कहा कि जब वापस घर जाओ तब पैसे दे जाना। इस बहाने उसने युवती का मोबाइल नंबर भी नोट कर लिया। फिर उससे फोन पर बातें शुरु कीं। दोस्ती गांठकर उसे इश्क में फंसाकर हरिओम उससे पैसों की मांग करने लगा। युवती ने विरोध किया तो हरिओम ने उसके अश्लील फोटो वायरल कर दिए।
युवती का अंगूठा लगाकर निकाली सिम
हरिओम ने युवती से दोस्ती गांठ कर उसका अंगूठे के निशान लगाकर तीन सिम ले रखी थीं, जब युवती से विरोध शुरु हुआ तो उसके नाम से जारी सिम के जरिए उसे बदनाम करने की कोशिश की। हरिओम को पकड़ कर पुलिस ने उससे युवती के नाम से खरीदी गई तीन सिम और उनके जरिए भेजे गए अश्लील फोटो का डाटा हासिल कर लिया।

Puneet Shriwastav Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned