आरटीई के तहत होने वाले एडमिशन में खामियां

आरटीई के तहत होने वाले एडमिशन में खामियां

Rajesh Shrivastava | Publish: Mar, 30 2019 07:43:38 PM (IST) gwalior

आरटीई के तहत किए जाने वाले एडमिशन में खामियां देखने को मिल रही हैं। आरटीई के तहत एडमिशन में हर साल सीटें खाली रह जाती हैं, जिसमें प्राइवेट स्कूल संचालकों द्वारा खुलेआम मनमानी की जाती है।

ग्वालियर. इन दिनों माध्यमिक शिक्षा मंडल की बोर्ड परीक्षाएं चल रही हैं, साथ ही बोर्ड के वेल्युवेशन का काम भी किया जा रहा है, लेकिन इसमें खामियां हैं, क्योंकि जिन शिक्षकों की ड्यूटी बोर्ड वेल्युवेशन में लगाई गई है, उन्हीं शिक्षकों की ड्यूटी परीक्षा में भी लगी है। परीक्षा केन्द्र काफी दूर होने से शिक्षक परीक्षा कराने के पश्चात बोर्ड वेल्युवेशन के कार्य में समय पर नहीं पहुंच पाते हैं, जिससे काम प्रभावित होता है। साथ ही आरटीई के तहत किए जाने वाले एडमिशन में खामियां देखने को मिल रही हैं। आरटीई के तहत एडमिशन में हर साल सीटें खाली रह जाती हैं, जिसमें प्राइवेट स्कूल संचालकों द्वारा खुलेआम मनमानी की जाती है। इस संबंध में प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी संजीव शर्मा से एक्सपोज की चर्चा।

बोर्ड के वेल्युवेशन में जो शिक्षक अनुपस्थित हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जाती है?
जिन शिक्षकों की ड्यूटी वेल्युवेशन में लगाई गई है, उन्हीं शिक्षकों की ड्यूटी परीक्षाओं में लगाई गई है, जिस कारण वह समय पर उपस्थित नहीं हो पाते हैं। ऐसे में मानवता को देखते हुए कार्रवाई नहीं की जाती है।

आरटीई के तहत एडमिशन में हमेशा सीट खाली क्यों रह जाती हैं?
इसके लिए पालक स्वयं जिम्मेदार होते हैं, क्योंकि आरटीई के तहत उन्हें जो विद्यालय मिलता है वह उन विद्यालयों में अपने बच्चों को प्रवेश दिलाना नहीं चाहते हैं। विभाग की ओर से यह प्रयास किए जाते हैं कि अधिक से अधिक बच्चों को आरटीई के तहत प्रवेश दिलाया जाए।

बोर्ड वेल्युवेशन का काम नियमित रूप से कब तक हो पाएगा?
शनिवार को सभी परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षाएं पूर्ण हो जाएंगी, इसके पश्चात ही सभी शिक्षकों को बोर्ड वेल्युवेशन मेें अनिवार्य रूप से उपस्थित होने के निर्देश दिए जाएंगे, व्यवस्था सुधारेंगे।

ग्रीष्म कालीन अवकाश में भी फीस वसूलने वाले प्राइवेट स्कूल संचालकों पर कार्रवाई क्यों नहीं की जाती है?
यह जांच का विषय है कि कौन सा विद्यालय कितने महीने की फीस ले रहा है। इस संबंध में फिलहाल ऐसी कोई शिकायत नहीं मिली है, शिकायत मिलने पर जांच उपरांत कार्रवाई की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned