किसानों के बिजली बिल की वसूली स्थगित की जाए: सांसद

लॉकडाउन से देश संकट के दौरान से गुजर रहा है किसान सबसे ज्यादा परेशान है।

ग्वालियर. कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन से देश संकट के दौरान से गुजर रहा है। इस कारण किसान सबसे ज्यादा परेशान है। इसलिए किसानों को राहत देने के लिए बकाया बिलों की वसूली स्थगित की जाए। जिससे वे संकट से उबर सके। यह मांग सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर की है।


सांसद ने कहा, प्रदेश में बिजली के बिल समय पर जमा न होने के कारण विद्युत कंपनियों द्वारा विद्युत सप्लाई अबाधित रखने के लिए खराब पड़े ट्रांसफार्मर समय नहीं बदले जा रहे हैं। इस कारण ग्रामीण अंचल में विद्युत संकट गहराता जा रहा है। वर्तमान में सरकार गरीबों को मुफ्त राशन, गैस सिलेंडर, आर्थिक सहायता और बैंक त्र्ऋण अदा करने में राहत दी गई है ऐसे में किसानों के बिजली बिलों को स्थगित कर उन्हें राहत मिलना चाहिए।

प्रधानमंत्री राहत कोष में सांसद विवेक नारायण शेजवलकर निधि से एक करोड़ रुपए जमा कराएं है। इससे पूर्व सांसद शेजवलकर ने इस आपदा से निपटने के लिए अपने संसदीय क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने के लिए आवश्यक स्वास्थ्य उपकरण उपलब्ध कराने के लिए पूर्व में सांसद निधि से 70 लाख दे चुके है।

Patrika
राहुल गंगवार Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned