लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा को लगा सबसे बड़ा झटका,इस दिग्गज नेता ने छोड़ी पार्टी,कांग्रेस में खुशी

लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा को लगा सबसे बड़ा झटका,इस दिग्गज नेता ने छोड़ी पार्टी,कांग्रेस में खुशी

By: monu sahu

Updated: 04 Apr 2019, 12:29 PM IST

ग्वालियर। लोकसभा चुनाव के ठीक पहले कांग्रेस के लिए एक ऐसी खुशखबरी आई। जिसे सुनने के बाद ग्वालियर चंबल संभाग के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है। दरअसल ग्वालियर चंबल संभाग के शिवपुरी जिले के पिछोर की राजनीति में अपना अलग स्थान रखने वाले भैया साहब लोधी ने आखिरकार बुधवार की सुबह शिवपुरी छत्री स्थित बॉम्बे कोठी पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के समक्ष भाजपा को छोड़ कांग्रेस में वापसी कर ली है।

 

21 साल तक भाजपा व जनशक्ति पार्टी में आते-जाते रहे भैयासाहब का कहना है कि मुझे घुटन महसूस हो रही थी,इसलिए अपनी भूल को सुधार कर वापस आया हूं। महत्वपूर्ण बात यह है कि भैयासाहब ने राजनीति कांग्रेस से ही शुरू की थी और वे एक बार प्रदेश की कांग्रेस सरकार में मंत्री भी रहे। भैया साहब की घर वापसी को लेकर पिछोर की राजनीति गर्माई हुई है। गौरतलब है कि पिछोर में कांग्रेस से विधायक व मंत्री रह चुके भैयासाहब लोधी ने वर्ष 1998 में कांग्रेस को छोडकऱ भाजपा का दामन थाम लिया था। पिछोर में दो बार वर्ष 1980 व 1985 में कांग्रेस से विधायक रहे तथा दूसरी बार विधायक बनने पर प्रदेश सरकार में मंत्री भी रहे।

 

इस दौरान कांगे्रस में किसी अंदरूनी खींचतान के चलते 1998 में भैयासाहब ने भाजपा ज्वाइन कर ली थी। भैयासाहब ने वर्ष 2008 के चुनाव में भाजपा को छोडकऱ उमा भारती की जनशक्ति पार्टी ज्वाइन करने के साथ ही उस दल से चुनाव भी लड़ा था। चूंकि इसके बाद से कांगे्रस को केपी सिंह के रूप में ऐसा नेता मिला,जो पिछले छह बार से लगातार विधायक चुने जा रहे हैं,शायद इसलिए भैयासाहब लोधी ने कांगे्रस में इस दौरान वापसी की इच्छा व्यक्त नहीं की थी।

lok sabha election 2019

पिता के साथ कांग्रेस में शामिल

इस दौरान वे जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष भी रहे चुके हैं। भैयासाहब के पुत्र दिनेश लोधी भी जिला पंचायत सदस्य रह चुके हैं और बुधवार को वे भी अपने पिता के साथ कांग्रेस में शामिल हुए। कांग्रेस में वापसी के संबंध में जब भैयासाहब से पूछा तो वे बोले कि जब कांगे्रस छोड़ी थी,तब कुछ ऐसी परिस्थितियां बन गईं थीं। लेकिन बाद में यह महसूस हुआ कि मुझसे भूल हुई थी इसलिए मैंने अपनी भूल सुधार ली।

monu sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned