10 किलो के पैकेट में 1 से 4 किलो आटा कम, कांग्रेस का आरोप- महामारी में आटा घोटाला

10 किलो पैकेट में 1 से 4 किलो आटा कम निकल रहा है

By: Devendra Kashyap

Published: 18 Apr 2020, 05:43 PM IST

ग्वालियर. कोरोना काल में भी सियासत जारी है। भाजपा और कांग्रेस के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। इन सब के बीच कोरोना महामारी से जूझ रहे जरूरतमंद लोगों के हिस्से के राशन में भी गड़बड़ी करने से लोग बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस को बैठे-बिठाए एक मुद्दा मिल गया है।

दरअसल, शिवराज सरकार द्वारा शुरू की गई 10 किलो आटा देने की योजना के लिए नागरिक खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा तैयार किए गए 10 किलो आटे के पैकेट में 2 से तीन किलो आटा कम निकल रहा है। इस प्रकरण को सामने आने के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस भाजपा सरकार पर हमलावर हो गई है और इसे घोटाला बता रही है।

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए आरोप लगाया है कि शिवराज ने महामारी में भी घोटाला कर दिया। कांग्रेस ने कहा कि ग्वालियर के राशन की दुकान से बांटे जा रहे आटे के पैकेट में 1 से 4 किलो तक आटा कम है। कांग्रेस का कहना है कि गरीबों को कम आटा देकर उनका पेट काटा जा रहा है।

70 लाख पैकेट बांटने हैं

मध्य प्रदेश कांग्रेस के अनुसार, कोरोना काल में प्रदेश में लगभग 70 लाख पैकेट बांटे जाने हैं। अगर सभी पैकेट में इसी तरह आटे कम दिए जाएंगे तो यह अरबों का घोटाला होगा।

जांच के आदेश

हालांकि मामला सामने आने के बाद ग्वालियर कलेक्टर ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। ग्वालियर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से इस बात की जानकारी मिली है कि पीडीएस के माध्यम से बांटे जा रहे आटा पैकेट का वजन 10 किलो से कम है। इसकी जांच की जा रही है, जो भी दोषी होंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Corona virus corona virus in india
Show More
Devendra Kashyap
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned