खेत पर फसल देखने गया था किसान,मगर दोपहर में तार से लिपटी मिली बॉडी

खेत पर फसल देखने गया था किसान,मगर दोपहर में तार से लिपटी मिली बॉडी
youth

monu sahu | Publish: Oct, 11 2017 08:46:35 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

भितरवार ब्लॉक के लुहारी गांव में एक किसान को बिजली कंपनी की जरा सी चूक जान पर भारी पड़ गई।

ग्वालियर। भितरवार ब्लॉक के लुहारी गांव में एक किसान को बिजली कंपनी की जरा सी चूक जान पर भारी पड़ गई। जमीन से कुछ ही ऊंचाई पर बिजली के तारों ने उसकी हमेशा के लिए जीवनलीला समाप्त कर दी। करंट लगने से उसकी दर्दनाक मौत हो गई। बाबूलाल रावत (50) पुत्र उदयसिंह रावत निवासी लुहारी अपने खेतों में खड़ी गन्ने की फसल में पानी देने के लिए सोमवार की दोपहर घर से निकला था। बाबूलाल रोज दोपहर को जाता था और रात में फसल की सिंचाई करने के बाद दूसरे दिन अलसुबह घर लौटता था।

 

मंगलवार की सुबह जब वह नहीं लौटा तो परिजन को चिंता हुई। परिजन उसे खोजने निकले तो देखा कि एक खेत में बाबूलाल 11 केवी लाइन के तारों में उलझा हुआ पड़ा है। जिसकी करंट लगने से मौत हो गई थी। परिजन ने तत्काल डायल100 को सूचना दी उक्त वाहन मौके पर पहुंचा और बाबूलाल के शव को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिया गया।

 

मृतक के भतीजे धर्मेन्द्र रावत ने बताया कि कुछ लोगों को सिंचाई के उद्देश्य से कंपनी ने खेतों के पास ट्रांसफार्मर रखवाकर लाइन डाल रखी है। यह लाइन जमीन से कुछ ही ऊंचाई पर झूल रही है। कई बार तो यह इतनी नीची हो जाती है कि इसके नीचे से निकलना मुश्किल होता है। ग्रामीण इसे लकड़ी के डंडों से ऊपर करते हैं। धर्मेन्द्र ने बताया कि इस लाइन को ऊंचा करने के लिए ग्रामीणों ने कंपनी के दफ्तर में जाकर शिकायत दर्ज कराई लेकिन कंपनी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया।

 

खेत से लापता हो गया किसान
ब्लॉक के मसूदपुर गांव में खेत पर पानी की मोटर खोलने गया किसान अचानक लापता हो गया। मौके पर किसान की मोटरसाइकिल व मोबाइल पड़ा मिला है। पुलिस किसान की खोजबीन में जुटी है। इस मामले में अपहरण से भी इनकार नहीं किया जा सकता है। सतेन्द्र रावत निवासी मसूदपुर सोमवार की शाम अपने घर से खेत पर पानी की मोटर खोलने गया था। वह रात आठ बजे तक घर नहीं लौटा। इसी दौरान किसी ग्रामीण ने आकर परिजन को बताया कि सतेन्द्र की मोटरसाइकिल व मोबाइल खेत के पास पड़ा है।

 

इस पर परिजन मौके पर पहुंचे। उन्होंने तत्काल पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया और बाइक को परिजनों को सौंपकर गुमशुदगी दर्ज कर जांच शुरू कर दी। टीआई रमेश शाक्य का कहना है कि सतेन्द्र की तलाश में रातभर पुलिस ने आसपास के गांवों में सर्चिग की। मंगलवार को भी पूरे दिन ग्रामीणों के सहयोग से पुलिस ने सतेन्द्र की खोजबीन की लेकिन उसका पता-ठिकाना नहीं लगा है। टीआई का कहना है कि सतेन्द्र को खोजने के लिए पूरा प्रयास किया जा रहा है। इधर ग्रामीणों में चर्चा है कि कहीं सतेन्द्र का अपहरण तो नहीं हो गया है। हालात भी इसी ओर इशारा कर रहे हैं।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned