पुरानी मंडी में बेरिकेड्स लगाकर नई मंडी में वाहनों को भेजने की तैयारी कर रहे थे मंडी सचिव, प्रशासन का फोन आया और हटा दिए

अब लक्ष्मीगंज स्थित थोक सब्जी मंडी को नवीन प्रांगण में शिफ्ट करने के बीच आए सांसद शेजवलकर

 

By: prashant sharma

Published: 22 Feb 2021, 06:44 PM IST

ग्वालियर. लक्ष्मीगंज स्थित थोक सब्जी मंडी के पीछे नवीन मंडी बनकर तैयार है। आधुनिक सुविधाओं से लैस इस नई मंडी में सभी थोक सब्जी कारोबारियों को शिफ्ट किया जाना है। अपने स्वार्थ के कारण कुछ कारोबारी नवीन मंडी में शिफ्ट नहीं होना चाहते हैं। इसके चलते कृषि उपज मंडी समिति लश्कर के सचिव देवेन्द्र सिंह जादौन ने सभी कारोबारियों को नवीन मंडी में शिफ्ट होने के लिए तीन दिन का अल्टीमेटम दिया था। इस अल्टीमेटम के बाद रविवार को सभी कारोबारियों को नवीन मंडी में पहुंच जाना था। शाम 4 बजे मंडी सचिव पुरानी मंडी के गेट पर बेरिकेड्स लगाकर रास्ता बंद करने का कार्य कर रहे थे, तभी उनके पास जिला प्रशासन की ओर से फोन आया जिसमें कहा गया कि सांसद विवेक शेजवलकर दोनों पक्षों को सुनकर निर्णय लेंगे। इसलिए अभी पुरानी मंडी का गेट खुलवा दें। इसके बाद पुरानी मंडी के गेट को खुलवा दिया गया।
नई मंडी में जाने को तैयार हैं
नवीन मंडी में जाने के लिए हमें कोई परेशानी नहीं है, कुछ लोग अपने स्वार्थ के कारण वहां नहीं जाना चाहते हैं। जहां तक सांसद की बात है तो 15 दिन पूर्व उनसे बात की थी तो उनका कहना था कि प्रशासन का काम शिफ्ट करने का है।
रामजीत सिंह राजपूत, अध्यक्ष, सब्जी व्यापारी संघ लक्ष्मीगंज मंडी
दोनों पक्षों को सुनकर निर्णय लेंगे
अभी कलेक्टर छुट्टी पर हैंं। नवीन मंडी में जाने को लेकर दोनों पक्षों से बैठक करके चर्चा की जाएगी। उसके बाद जो भी समस्या आ रही है उसे सुनकर ही निर्णय लिया जाएगा।
विवेक शेजवलकर, सांसद, ग्वालियर

prashant sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned