मंत्री का घर घेरा पब्लिक ने कहा माफिया ढूंढो, गरीबों के घर मत तोड़ो

आवासों का पट्टा मांगा, एक हजार से ज्यादा लोगों की भीड़ ने किया हंगामा

By: Puneet Shriwastav

Published: 06 Jan 2020, 12:18 AM IST

पुनीत श्रीवास्तव@ग्वालियर। जेसी मिल की जमीन के सरकारी घोषित होने पर रविवार को बिरलानगर की लाइन नंबर एक में प्रशासन की टीम को देखकर माहौल बिगड़ गया। यहां रहने वाले भांप गए कि अमला उनके मकानों को गिराने आया है। इसलिए भीड़ इक्टठा होकर प्रदेश के खाद्य मंत्री प्रद्युम्नसिंह तोमर के घर पहुंच गई। करीब एक हजार से ज्यादा लोगों ने हंगामा कर दिया। उनका कहना था कि प्रशासन एंटी माफिया की आड़ में उन्हें बेघर करना चाहता है। यहा रहने वाले मजदूरों को जेसी मिल से पैसा वसूलना है। जब तक हिसाब नहीं होगा एक ईंट नहीं तोडने देंगे। पब्लिक का माहौल मौके पर पहुंची प्रशासन की टीम भी भांप गई तो सिर्फ सर्वे का हवाला दिया। उधर मंत्री तोमर ने भी लोगों को भरोसा दिलाया कि वह शहर के बाहर है जब तक नहींं लौटेंगे यहां कोई कार्रवाई नहीं होगी।
बिरला नगर लाइन नंबर १ में रविवार सुबह प्रशासन की टीम को देखकर अफरा तफरी मच गई। लोगों का कहना था कि जेसी मिल की जमीन को अदालत ने सरकारी घोषित किया तो उसके बाद प्रशासन ने यहां रहने वालों को अल्टीमेटम दिया था कि मकान खाली कर दो। जमीन सरकारी है। यहां बने घर तोड़े जाएंगे। उसके बाद से जेसी मिल के आवासों में रहने वाले दहशत में है। क्योंकि उनके पास इन मकानों के अलावा कोई दूसरा ठिकाना नहीं है। सोमवार को प्रशासन का अमला यहां आया तो लोग भांप गए कि मकान तोड़े जाएंगे।

Puneet Shriwastav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned