मुरैना नगर निगम ऐसे कर रहा जनता के पैसे की बेकद्री

जनता के पैसे की बर्बादी किस तरह की जाती है, यह मुरैना नगर निगम के कारनामे से समझा जा सकता है। ताजा मामला है यहां के लेखापाल और उनके सीए की ओर से जीएसटी टीडीएस

ग्वालियर. जनता के पैसे की बर्बादी किस तरह की जाती है, यह मुरैना नगर निगम के कारनामे से समझा जा सकता है। ताजा मामला है यहां के लेखापाल और उनके सीए की ओर से जीएसटी टीडीएस की रकम जमा करने का है। इसमें निगम की ओर से जीएसटी विभाग को 50 लाख 5 हजार 573 रुपए जमा करने थे, लेकिन 5,00,55736 रुपए की रकम ट्रांसफर कर दी गई। साढ़े चार करोड़ की रकम अधिक जमा करने के बाद निगम में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं इस पूरे मामले को लेकर जब पत्रिका ने संबंधित लेखापाल यशवीर सिंह घुरैया, कमिश्नर अमर सत्य गुप्ता और सीए जीपी गर्ग (गोविंद सिंह) से बात करनी चाही तो कोई भी इस पर बोलने को तैयार नहीं हुआ।

पूर्व में भी यहां हो चुकी है गड़बड़ी
मुरैना नगर निगम में पूर्व में भी गड़बड़ी का मामला सामने आ चुका है। इसी वर्ष निगम की लेखा पुस्तकों में भारी गड़बडिय़ां और गंभीर अनियमिताओं का खुलासा पत्रिका ने किया था। उस समय नगर निगम के लेखापाल ओमप्रकाश कुलश्रेष्ठ ने बिना लेखाधिकारी की अनुमति के तत्कालीन कमिश्नर मूलचंद वर्मा के साथ मिलकर 20 करोड़ से अधिक के भुगतान भी कर दिए थे। ये भुगतान 8 से 20 मार्च के बीच किए गए थे।

लेखापाल ने लिखे सीए को पत्र
जब इतनी बड़ी रकम जीएसटी विभाग को ट्रांसफर हो गई तो पहले तो कमिश्नर ने लेखापाल को नोटिस दिया उसके बाद लेखापाल ने सीए को पत्र लिखकर 45050163 रुपए की रकम को निगम के खाता क्रमांक 4780101004816 में वापस कराने की मांग की।

संबंधित सर्किल में मिलने के लिए कहा है
जीएसटी टीडीएस की रकम अधिक ट्रांसफर को लेकर मुरैना से कुछ लोग मिलने आए थे। उन्हें बताया गया है कि पूरी जानकारी के साथ क्लेम किया जा सकता है। उसके बाद निगम के खाते में रकम ट्रांसफर की जाएगी। इसके लिए उन्हें संबंधित सर्किल में मिलने के लिए कहा गया है।
यूएस बैस, ज्वॉइंट कमिश्नर, जीएसटी राज्य कर

रिज़वान खान
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned