फॉरेन यूनिवर्सिटी से होंगे एमओयू, सेटेलाइट सेंटर भी करेंगे ओपन

जीवाजी यूनिवर्सिटी ने बात कर तैयार की रूपरेखा

By: Mahesh Gupta

Published: 12 May 2020, 10:24 PM IST

ग्वालियर.
आयुर्वेद को प्रमोट करने के लिए जीवाजी यूनिवर्सिटी अलग-अलग देशों की यूनिवर्सिटीज के साथ पांच एमओयू साइन करने जा रहा है। इनमें यूरोप आयुर्वेदिक अकादमी पेरिस, यूरोप आयुर्वेद अकादमी आयरलैंड, मिल्टन कीन्स कॉलेज ऑफ आयुर्वेद लंदन, कैंब्रिज यूनिवर्सिटी और नोर्द ईस्टर्न हिल यूनिवर्सिटी शिलांग शामिल हैं। इनके माध्यम से आयुर्वेद और उससे जुड़ी पंचकर्म, हर्बल, योग जैसी पद्धतियों को दूसरे देशों के संस्थानों में भी प्रमोट किया जाएगा, जिससे वहां के छात्रों को इन सभी पद्धतियों का फ ायदा मिल सके। साथ ही उन देशों के यूनिवर्सिटीज फैकल्टी का जेयू के स्टूडेंट्स के साथ इंटरेक्शन भी होगा। जेयू के जनसम्पर्क अधिकारी डॉ केशव सिंह गुर्जर ने बताया कि लॉकडाउन के बाद ये एमओयू होंगे। इसके लिए रूपरेखा पूरी तैयार की जा चुकी है।

संस्थानों में करेंगे क्लीनिकल ट्रायल
एमओयू वाले सभी विश्वविद्यालयों और संस्थानों में जीवाजी यूनिवर्सिटी का सेटेलाइट सेंटर भी खोला जाएगा। इनमें जेयू के हेल्थ सेंटर में कई सालों से डायबिटीज दवा पर चल रहे शोध का क्लीनिकल ट्रायल भी शामिल है। इसके लिए जीवाजी यूनिवर्सिटी ने फ ार्मेट भी तैयार कर लिया है, जिससे आयुर्वेद को प्रमोट करने में मदद मिल सकेगी।

विदेशी शिक्षकों से जेयू स्टूडेंट्स का होगा इंटरेक्शन
जीवाजी विवि के हेल्थ सेंटर के कोऑर्डिनेटर डॉ. जीबीकेएस प्रसाद ने बताया कि इन एमओयू के तहत जेयू में आयुर्वेद और उसकी पद्धतियों से संबंधित कुछ कोर्स शुरू किए जाएंगे। ये सभी शॉर्ट टर्म कोर्स होंगे, जिनमें डिप्लोमा और सर्टिफि केट कोर्स शामिल होंगे। इनकी क्लासेस एमओयू किए जाने वाले विश्वविद्यालयों के शिक्षकों द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ली जाएंगी। इन सभी कोर्सेस की अवधि अलग-अलग रखी गई है। ये सभी क्लासेस जेयू के हेल्थ सेंटर में शुरू होंगी।


वर्जन
लॉकडाउन के बाद हम पांच फॉरेन यूनिवर्सिटी से एमओयू साइन करेंगे। इसके लिए वहां के एडमिनिस्ट्रेशन से बातचीत हो चुकी है। इससे हमारी फैकल्टी और स्टूडेंट्स को फायदा मिलेगा। साथ ही हम अपने आयुर्वेद का प्रचार प्रसार भी करेंगे। इसके लिए सेटेलाइट सेंटर खोले जाएंगे।
प्रो. संगीता शुक्ला, कुलपति, जीवाजी यूनिवर्सिटी

Mahesh Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned