मुंबई में 20 किलो सोना लूटकर यहां छुपा था मास्टर माइंड, फिल्मी स्टाइल में की थी वारदात

मुंबई के जावेरी सराफा बाजार में हुई थी लूट, 20 किलो सोने की कीमत 6 करोड़ थी...। ग्वालियर में छुपा था मास्टर माइंड...।

By: Manish Gite

Published: 23 Sep 2020, 11:37 AM IST

ग्वालियर। मुंबई के सराफा बाजार ( mumbai sarafa bazar ) में बैंक में जमा होने जा रहा 20 किलो सोना लूटने का मास्टर माइंड ( mastermind ) गिरफ्तार कर लिया गया। वो माधौगंज की शिव कॉलोनी में छुपा था। उसकी तलाश में मुंबई पुलिस कई जगह तलाश कर रही थी। आरोपी के घर से 3 लाख 90 हजार रुपए और पिस्टल बरामद की गई है।

 

19 जून 2019 को लोकमान्य तिलक मार्ग थाना क्षेत्र में 20 किलो सोने की लूट हुई थी, जिसकी कीमत करीब 6 करोड़ रुपए बताई जाती है। इस घटना का मास्टर माइंड राजेश परमार ग्वालियर में छुपा था। मुंबई की लोकमान्य तिलक मार्ग थाना पुलिस ने उसे माधौगंज स्थित शिव कालोनी से गिरफ्तार ( mumbai police arrested ) कर लिया। उसके पास से एक बिस्टल और 3 लाख 90 हजार रुपए भी जब्त किए हैं। बताया जाता है कि राजेश परमार इस लूट का मास्टर माइंड था और उसके दो भतीजे भी इस घटना में शामिल हुए थे। पुलिस 20 किलो सोने के बिस्किट में से 13 किलो सोना पहले ही बरामद कर चुकी है। बाकी सोने की तलाश की जा रही है।

 

माधवगंज टीआई सुधीर सिंह कुशवाह के मुताबिक मुंबई के झावेरी बाजार सराफा ( mumbai zaveri bazar ) से बैंक में जमा होने जा रहे 20 किलो सोना बक्से समेत लेकर भागने का मास्टर माइंड राजेश परमार शिवकालोनी गुढ़ा में छुपा था। सोमवार को मुंबई की लोकमान्य तिलक मार्ग थाना पुलिस की टीम एसआइ सुधीर थोराट के नेतृत्व में आई थी और आरोपी को पकड़कर ले गई।

 

ऐसे हुई थी वारदात

मुंबई पुलिस के मुताबिक वारदात के दिन कंपनी का वाहन झावेरी बाजार से बड़े कारोबारी का सोना लेकर बैंक में जमा करने जा रहा था। हर बक्से में सोने के बिस्किट भरे थे। बैंक पर वाहन पहुंचा तो लोडर्स को बॉक्स के स्ट्रांग रूम में जमा कराया जाना था, लेकिन तीन में से एक लोडर-हम्माल बैंक में बने खंभे के पीछे बॉक्स लेकर छिप गया। बॉक्स में करीब 20 किलो सोने के बिस्किट थे। बैंक के सीसीटीवी में उसके फुटेज आए थे, तब आरोपी की पहचान हुई। इस वारदात में अभी तक चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है, साथ ही 13 किलो सोना बरामद किया जा चुका है। आरोपी राजेश परमार से पुलिस को वारदात में बड़ा इनपुट मिलने की उम्मीद है।

 

रिटायर्ड फौजी के साथ भतीजे भी लूट में शामिल

मुंबई पुलिस के साथ इंस्पेक्टर सुधीर थोराट ने बताया कि आरोपी राजेश परमार रिटायर्ड फौजी है। मुंबई में ब्रिक्स इंडिया लाजिस्टिक कंपनी में गनमैन की नौकरी कर रहा था। पिछले साल जून में उसकी ड्यूटी झावेरी सराफा बाजार से सोना बैंक में ले जाने वाली सिक्योरिटी वैन में लगी थी। इसमें हर दिन करोड़ों रुपए का सोना बैंक तक आता-जाता था। राजेश और गाड़ी में सोना लादने वाले दो हम्मालों ने मिलकर सोना लूटने का प्लान बनाया था। वारदात को अंजाम देने के लिए राजेश ने अपने भतीजे अभिमन्यु और अभिषेक को भी बुला लिया था।

 

पिछले साल यह हुई थी कार्रवाई

सिक्योरिटी कंपनी में आलोक परमार एवं अभिषेक परमार पुत्रगण मुन्ना सिंह निवासी जगनेर (आगरा) एवं आकाश जादौन पुत्र सुशील कुमार लोडर के रूप में काम करते थे। सोना बैंक लॉकर में ले जाते समय 20 किलो सोने का एक पैकेट चोरी हो गया।

 

दो और मंत्री कोरोना की चपेट में, अब तक 40 मंत्री-विधायक हो चुके हैं संक्रमित
गुजरात से लेकर छत्तीसगढ़ के बीच बनेगा एक्सप्रेस-वे, इन 10 जिलों से गुजरेगा विकास का रास्ता
अब सिंधिया समर्थक मंत्री का दावा, कमलनाथ ने दिया था ऐसा 'ऑफर'
कैबिनेट के बड़े फैसले: बेकार पड़ी सरकारी जमीन कब्जे में है तो मिलेगा 30 साल का पट्टा

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned