सहारा के बाद सोफिया कॉलेज पर अवैध निर्माण की कार्रवाई

अवैध निर्माण के चलते सहारा अस्पताल पर कार्रवाई के बाद रविवार को नगर निगम ने डॉ एएस भल्ला की पत्नी के सोफिया कॉलेज में परमिशन से अधिक निर्माण करने पर कार्रवाई की। निगम अमले ने चौथी मंजिल पर लगी टीन शेड और दीवारों को ढहा दिया। छत काटने सहित बाकी की कार्रवाई अंधेरा होने के कारण अब सोमवार को की जाएगी। डॉ भल्ला के खिलाफ नगर निगम और प्रशासन की यह तीसरी कार्रवाई है। हालांकि सहारा अस्पताल के मामले में स्थगन हो गया था उसकी सुनवाई भी सोमवार को होना है।

By: Vikash Tripathi

Updated: 08 Dec 2019, 09:22 PM IST

नगर निगम और प्रशासन डॉ एएस भल्ला के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रहा है। गत दिवस डॉ भल्ला की पत्नी के सोफिया कॉलेज को भी निगम ने ६ घंटे का नोटिस दिया लेकिन जब अवैध निर्माण नहीं हटाया तो रविवार को दोपहर २ बजे निगम और प्रशासनिक अधिकारी पूरी तैयारी के साथ यहां पहुंचे। निगम अधिकारियों के अनुसार कॉलेज प्रबंधन के पास सिर्फ ३ मंजिल की परमिशन थी लेकिन बनाया ५ मंजिल है।

कॉलेज में स्टूडेंट थे कार्रवाई से पहले सभी को वहां से निकाल दिया इसके अलावा पास में ही हॉस्टल भी था वहां से भी स्टूडेंट्स को हटा दिया। मदाखलत ने पांचवी मंजिल को तोड़ दिया और यहां लगी टीन शेड को भी नीचे गिरा दिया। कार्रवाई के दौरान एसडीएम अनिल बनवारिया, सिटी प्लानर प्रदीप वर्मा, महेन्द्र पाराशर, महेन्द्र शर्मा आदि उपस्थित थे।


हमें समय दे दो हम खुद तोड़ लेंगे
कार्रवाई के दौरान रीना शर्मा जो कि खुद को कॉलेज का स्टॉफ बता रही थीं कुछ महिलाओं के साथ आईं और उन्होंने वहां मौजूद निगम अधिकारियों से कहा कि जो भी अवैध बना है उसे हम खुद ही तोड़ लेंगे लेकिन निगम अधिकारियों ने मना कर दिया। कार्रवाई शाम ५.३० बजे तक जारी रही। इस दौरान रीना शर्मा ने कहा कि यह तो सरासर गलत है शहर में कई लोगों ने अवैध निर्माण किया है उन पर कार्रवाई न करते हुए प्रशासन और नगर निगम डॉ. भल्ला के पीछे पड़ गया है।
स्थगन न मिले इसलिए चुना रविवार का दिन


सहारा अस्पताल पर कार्रवाई के मामले में प्रशासन और निगम को स्थगन के चलते कार्रवाई को रोकना पड़ा था। अधिकारियों ने इसलिए रविवार का दिन कार्रवाई के लिए चुना जिससे अस्पताल प्रबंधन मामले में कोर्ट न जा सकें। निगम ने २४ घंटे का नोटिस दो दिन पहले दिया और गत दिवस ६ घंटे का नोटिस जारी किया था।
गैस सिलेंडर हो गया खत्म
कार्रवाई के दौरान लोहे के सरिया और पाइप को काटने के लिए गैस कटर का इस्तेमाल किया जा रहा था। लेकिन कार्रवाई से पहले ही गैस सिलेंडर खत्म हो गया जिससे टीन शेड के सभी पाइप नहीं कट पाए। बाद में उसे धकेल कर नीचे गिराया गया।
47अस्पतालों पर कब होगी कार्रवाई
प्रशासन और नगर निगम द्वारा शुरू की गई कार्रवाई को लेकर सवाल खड़ेे हो रहे हैं। इसे प्रशासन का डॉ भल्ला पर पटलवार बताया जा रहा है, हालांकि प्रशासन का कहना है कि इसमें कोई भी बदले की भवना नहीं है और नियमानुसार ही कार्रवाई की जा रही है। लेकिन निगम और प्रशासन द्वारा तलघर में चल रहे जिन ४७ अस्पताल और डायनोस्टिक सेंटर को नोटिस दिया था उन पर कार्रवाई कब होगी इस सवाल पर निगम अधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं।

कॉलेज प्रबंधन ने ३ मंजिल की परमिशन पर ५ मंजिल का निर्माण किया था। इस पर कार्रवाई की गई है। दीवार और टीन शेड को गिरा दिया है बाकी की कार्रवाई कल की जाएगी।
प्रदीप वर्मा, सिटी प्लानर नगर निगम

Vikash Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned