कलेक्टर की सख्ती के बाद जागा निगम, कंपनी के वाहनों को किया अधिग्रहित

शहर की खराब सफाई व्यवस्था को लेकर कलेक्टर की नाराजगी के बाद आखिरकार रविवार को नगर निगम जाग गया। निगम ने कंपनी के टिपर, डंपर सहित 100 वाहनों को अधिग्रहित कर लिया। हालांकि वाहनों की संख्या कम होने से कचरा कलेक्शन में परेशानी आएगी लेकिन निगम अधिकारियों के अनुसार दो शिफ्टों में सोमवार से कचरा कलेक्शन शुरु किया जाएगा।

By: Vikash Tripathi

Published: 18 Oct 2020, 09:20 PM IST

नगर निगम अमला दोपहर में नारायण विहार स्थित ईको ग्रीन कंपनी के कचरा ट?ांसफर स्टेशन पहुंचा। यहां रखे वाहनों का परीक्षण किया और उन्हें चालू करके देखा। इस दौरान यहां से 21 टिपर वाहन मिले। इसके अलावा जो वाहन थे वह खराब थे जिसके कारण नगर निगम ने उन्हें अधिग्रहित नहीं किया। मौके पर अपर आयुक्त नरोत्तम भार्गव सहित अन्य तकनीकि अधिकारी भी मौजूद रहे। इसके अलावा मेला ग्राउंड से 21, आदर्श मिल में 21, एमपी एग्रो से 13 और वीरपुर स्थित ट?ांसफर स्टेशन से 15 टिपर वाहन मिले, जिनका उपयोग डोर टू डोर कचरा कलेक्शन में किया जाता है। इसके अलावा 4 जीप और 4 डंपर भी अधिग्रहित किए गए।
वाहनों की संख्या कम, दो शिफ्ट में होगा कार्य
नगर निगम के पास चालू हालत में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के लिए सिर्फ 45 वाहन ही हैं। कंपनी के 100 वाहनों को मिला लिया जाए तो निगम के पास 145 से 150 वाहन हो जाएंगे। लेकिन डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के लिए 300 से अधिक टिपर की जरुरत है। ऐसे में संख्या की कमी होगी इससे निपटने के लिए निगम द्वारा दो शिफ्ट में कचरा कलेक्शन किया जाएगा।
निगम अधिकारी झाड रहे थे पल्ला
शहर में एक पखवाडे से अधिक समय से ईको ग्रीन कंपनी डोर टू डोर कचरा कलेक्शन नहीं कर रही थी। इसके बावजूद निगम अधिकारी कंपनी पर कार्रवाई करने के बजाए उसके बचाव में थे। यही कारण है कि अभी तक कंपनी के वाहनों को टेकओवर कर कचरा संग्रहण शुरु नहीं किया था। मामले में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जब सख्ती दिखाई और गत दिवस धारा 144 लगाई इसके बाद ही नगर निगम प्रशासन हरकत में आया।
पूर्व और ग्वालियर विधानसभा में बांटे वाहन
ग्वालियर और पूर्व विधानसभा में उपचुनाव होना है। इसे देखते हुए निगम का फोकस भी इन दोनों ही विधानसभा मंे है। यही कारण है कि कंपनी से जो वाहन अधिग्रहित किए गए उनमें से 90 वाहन दोनों ही विधानसभा में दिए गए हैं।
कंपनी के कर्मचारी को नहीं हटाएगा निगम
कंपनी के वाहनों के साथ ही निगम ने कंपनी में कार्यरत कर्मचारियों की सूची भी कंपनी से ले ली है। निगमायुक्त संदीप माकिन ने सभी कर्मचारियों द्वारा ही कार्य कराने की बात कही है। इसके साथ ही कंपनी के सुपरवाइजर ही सफाई व्यवस्था और वाहनों की माॅनिटरिंग करेंगे।

ईको ग्रीन कंपनी के 100 वाहनों को अधिग्रहित कर लिया है, इनके जरिए दो शिफ्ट में कचरा कलेक्शन किया जाएगा।
सतपाल चैहान, उपायुक्त नगर निगम

Vikash Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned