मां-बेटे को गांव छोडऩे का झांसा देकर पड़ोसियों ने अपहरण कर किया गैंगरेप

बहन के घर आई महिला को पड़ोसी और मामा नादान बेटे के साथ घर तक छोडऩे का झांसा देकर ले गए। उसे गोहद, अंबाह में अलग जगहों पर बंधक बनाकर रखा। उसके साथ गैंगरेप करते रहे।

ग्वालियर. बहन के घर आई महिला को पड़ोसी और मामा नादान बेटे के साथ घर तक छोडऩे का झांसा देकर ले गए। उसे गोहद, अंबाह में अलग जगहों पर बंधक बनाकर रखा। उसके साथ गैंगरेप करते रहे। रविवार को महिला किसी तरह उनके चंगुल से छूटकर आई तब घटना बताई। जिन लोगों के नाम सामने आए हैं उन्हें तलाशा जा रह है।
ग्वालियर थाना प्रभारी बलवीर सिंह मावई ने बताया बिजोली में रहने वाली महिला (27) की बहन किलागेट पर रहती है। तीन साल के बेटे के साथ महिला 24 मई को बहन के घर आई थी। वापस गांव जाते वक्त बहन का पड़ोसी सोनू परिहार और उसका मामा दिलीप मिल गए। इन लोगों ने उसे बाइक से मुरार तक छोडऩे के लिए कहा। झांसा दिया कि मुरार से बिजौली के लिए तमाम वाहन मिल जाएंगे। उनकी बातों में आकर महिला साथ चली गई। मुरार पहुंचकर दोनों ने साथी सूखा परिहार को कार लेकर आने को कहा। महिला से बोले कि गांव तक ही छोड़ देते हैं दोस्त कार लेकर आ रहा है, फिर तीनों उसे गोहद ले गए। यहां कमरे में बंधक बना लिया। उसके साथ सोनू और दिलीप ने बलात्कार किया। फिर तीनों उसे अंबाह ले गए यहां भी बंधक बनाकर ज्यादती की। पीडि़ता ने बताया कि दोनों आरोपी विरोध करने पर नादान बेटे को मारने की धमकी देते थे।

15 साल शादी का झांसा गर्भवती होने पर मुकरा
१5 साल तक पड़ोसन को शादी का झांसा देकर विवाहित पड़ोसी उसका शारीरिक शोषण करता रहा। वह गर्भवती हो गई तो शादी से साफ मुकर गया। पुलिस ने बताया लोहा मंडी में रहने वाला अन्नू राठौर शादीशुदा होने के बावजूद बस्ती में रहने वाली युवती को प्रेम में फंसाए था। करीब 15 साल से उससे दोस्ती कर वादा करता रहा कि शादी तो उससे ही करेगा। पीडि़ता की शिकायत पर पुलिस ने अन्नू पर बलात्कार का केस दर्ज उसे दबोचा है।

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned