पीने तक के लिए नहीं पानी, जन्म प्रमाण पत्र बनवाने लगाने पड़ रहे चक्कर

बिरला नगर प्रसूति गृह में इन दिनों प्रसूताओं और उनके परिजन को मूलभूत सुविधाओं के लिए परेशान होना पड़ रहा है। प्रसूति गृह की बोरिंग पिछले पांच दिनों से खराब होने के चलते महिलाओं को पीने तक...

ग्वालियर. बिरला नगर प्रसूति गृह में इन दिनों प्रसूताओं और उनके परिजन को मूलभूत सुविधाओं के लिए परेशान होना पड़ रहा है। प्रसूति गृह की बोरिंग पिछले पांच दिनों से खराब होने के चलते महिलाओं को पीने तक के पानी के लिए इधर-उधर से व्यवस्था करना पड़ रही है।
हजीरा सहित आसपास के क्षेत्रों की महिलाएं इलाज के लिए बिरला नगर में ही पहुंचती है। इसके चलते अब यहां भर्ती महिलाओं को पानी भी नहीं मिलने से उनके परिजन बाहर से पानी लाने के लिए मजबूर हो गए हैं। हालत यह हो गए है कि परिजन सुबह से रात तक बाहर से पानी लाकर अपना गुजारा कर रहे हैं। वहीं यहां पर पिछले कई दिनों से जन्म प्रमाण पत्र बनाने वाली महिला कम्प्यूटर ऑपरेटर भी नहीं आ रही है। इसके चलते जन्म प्रमाण पत्र बनवाने वाले लोगों को काफी दिक्कतें आ रही हैं।


चार प्रसूताएं हैं भर्ती
बिरला नगर प्रसूति गृह में इस समय चार प्रसूताएं यहां पर भर्ती हैं। वहीं सुबह लगने वाली ओपीडी में लगभग 150 महिलाएं दिखाने के लिए आती है। इन सभी को पानी के लिए इस समय परेशान होना पड़ रहा है।


बिरलानगर प्रसूतिगृह में बोरिंग खराब होने की सूचना मुझे लगी है। उसे जल्द से जल्द ठीक कराया जाएगा। वहीं कम्प्यूटर ऑपरेटर भी हर दिन वहां बैठेंगे।
डॉ. मनीष शर्मा, सीएमएचओ

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned