scriptNow bulldozer turned towards BJP in MP | MP में भाजपा नेता की कॉलोनी पर चला बुलडोजर, राजनीतिक दबाव की कोशिशों के बावजूद अधिकारियों ने अपना फर्ज निभाया | Patrika News

MP में भाजपा नेता की कॉलोनी पर चला बुलडोजर, राजनीतिक दबाव की कोशिशों के बावजूद अधिकारियों ने अपना फर्ज निभाया

- 10 अवैध कॉलोनियों से मुक्त कराई जमीन

- अलग अलग कार्रवाइयों के दौरान कुल करीब 17.50 करोड़ रुपए की शासकीय भूमि मुक्त कराई

ग्वालियर

Published: May 07, 2022 03:19:40 pm

ग्वालियर। देश भर में इन दिनों बुलडोजर राजनीति अपने उच्चतम स्तर पर है। इसी के तहत मध्यप्रदेश में तहलका मचाए हुए बुलडोजर ने अब भाजपा नेताओं की ओर भी रुख कर दिया है।

जिसके चलते भाजपा नेता और जिला पंचायत अध्यक्ष के पति भुजबल सिंह द्वारा ग्वालियर के बड़ा गांव हाइवे के पास सात बीघा जमीन में बसाई जा रही अवैध कॉलोनी सहित 35 बीघा भूमि पर अन्य कॉलोनाइजर्स द्वारा किए जा रहे निर्माण पर प्रशासन ने अपनी कार्रवाई का बुलडोजर चला दिया है।

buldojer.jpg

दरअसल तहसीलदार कुलदीप दुबे व नायब तहसीलदार डॉ. मधुलिका सिंह तोमर की अगुवाई में करीब 6 घंटे तक जारी रही इस कार्रवाई में 15 करोड़ 80 लाख रुपए की 13 बीघा सरकारी जमीन भी भू माफिया के कब्जे से मुक्त कराई गई है।

सरकारी जमीन पर मुरार निवासी तीन लोगों ने कॉलोनी बसाना शुरु कर दिया था। जिसके बाद एंटी माफिया अभियान के अंतर्गत हुई इस कार्रवाई के दौरान राजनीतिक दबाव की कोशिश भी हुई, लेकिन तहसीलदार और नायब तहसीलदार ने कार्रवाई शुरु होने के बाद से ही अपने अपने फोन स्विच आॅफ कर लिए और शाम को करीब 6:30 बजे कार्रवाई पूरी होने के बाद फोन चालू किए।
वहीं वे इस दौरान दूसरे फोन से अपने वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत करते रहे। इस पूरे मामले में सबसे खास बात ये रही कि कॉलोनाइजर्स ने निजी भूमि के सर्वे नंबर पर लोगों को रजिस्ट्री कर दी और पास ही मौजूद सरकारी जमीन में भी पजेशन देते रहे।
इसके अलावा लश्कर में 75 लाख रुपए बाजार मूल्य की 12500 वर्गफीट जमीन से एसडीएम अनिल बनवारिया और तहसीलदार शारदा पाठक ने कब्जा हटवाया। जबकि झांसी रोड एसडीएम सीबी प्रसाद ने चेतकपुरी गेट के पास अवैध तरीके से कब्जाई गई 500 वर्गफीट भूमि पर बनाई बाउंड्री को तुड़वाकर सरकारी जमीन छुड़वाई।

जेसीबी से तोड़े निर्माण
अवैध तरीके से बसाई जा रहीं इन कॉलोनियों में जिला पंचायत अध्यक्ष पति ने बिजली के खंबे लगवा दिए थे। मुरम की सड़क डलवा दी थी। वहीं कुछ जगह पर आरसीसी की सड़क भी बना दी थी। कॉलोनाइजर्स ने अवैध कॉलोनियों में सीवर चैंबर भी बनावाए थे। कॉलोनियों में करीब 400 भूखंड बिक चुके हैं। प्लॉट खरीदने वाले लोगों ने बुनियाद भरवा ली थी।

यह सब निर्माण नगर निगम के मदाखलत अमले के द्वारा जेसीबी से तोड़ा गया। कार्रवाई में नगर निगम के सिटी पलानर सुरेश अहिरवार, बीके त्यागी, भवन अधिकारी राजीव सोनी,पवन शर्मा, उत्पल भदौरिया,मदाखलत अधिकारी शैलेंद्र सिंह, सतेंद्र सिंह सहित पुलिस भी मौजूद रही।

एक घंटे तक बजते रहे थे फोन
बड़ागांव में कार्रवाई की शुरुआत के साथ ही यहां मौजूद तहसीलदार कुलदीप दुबे,नायब तहसीलदार डॉ. मधुलिका सिंह तोमर के फोन बजने शुरु हो गए थे। इस दौरान अधिकारियों ने सिर्फ प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के कॉल रिसीव किए।

मौके पर पहुंचे कुछ लोगों ने कॉलोनी को वैध बताकर रोकने की कोशिश भी की , लेकिन जब दस्तावेज और अनुमतियां मांगी गईं तो सभी ने चुप्पी साध ली।

नायब तहसीलदार तोमर पूरी कार्रवाई कराने के बाद ही मौके से हटीं। इस दौरान नगर निगम के अधिकारियों पर भी कुछ फोन पहुंचे, लेकिन अधिकारियों ने तहसीलदार और नायब तहसीलदार से बात कराने की कहकर फोन काट दिए।
बड़ागांव क्षेत्र में 35 बीघा भूमि पर बस रही अवैध कॉलोनियों पर कार्रवाई की गई है। इसमें भुजबल यादव द्वारा भी निजी भूमि पर बिना अनुमति बसाहट की जा रही थी, जबकि 13 बीघा शासकीय भूमि भी मुक्त कराई गई है। इस भूमि पर भी अवैध कॉलोनी बसाई जा रही थी। मुक्त कराई गई शासकीय भूमि पर का बातार मूल्य 15 करोड़ 80 लाख रुपएसे भी अधिक है।
- कुलदीप दुबे, तहसीलदार मुरार
गिरवाई क्षेत्र में 12 हजार 500 वर्गफीट शासकीय भूमि से अतिक्रमण हटाया गया है। इस भूमि पर स्थानीय लोगों ने कब्जा करके मकान, बाउंड़ी और भैंसों का बेला बना लिया थ। इस शासकीय भूमि का बाजार मूल्य 75 लाख रुपए है।
- अनिल बनवारिया, एसडीएम लश्कर
चेतकपुरी गेट के पास ही पुरानी बाउंड़ी के सामने ही 800 वर्गफीट भूमि को कब्जाने के लिए बाउंड्री और अस्थई निर्माण कर लिया गया था। इसकी शिकायत आई थी, जांच के बाद इसको तोड़ दिया गया। भूमि का बाजार मूल्य करीब 1 करोड़ रुपए है।
- सीबी प्रसाद, एसडीएम झांसी रोड

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाब"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एकनाथ शिंदे ने कहा- यह बालासाहेब के हिंदुत्व और आनंद दिघे के विचारों की जीत हैMaharashtra Political Crisis: शिंदे खेमा काफी ताकतवर, उद्धव ठाकरे के लिए मुश्किल होगा दोबारा शिवसेना को खड़ा करनासचिन पायलट बोले-गहलोत मेरे पितातुल्य, उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.