अब सरकारी स्कूलों में कुछ ऐसा शुरू होने जा रहा है जिसे सुनकर आपको यकीन नहीं होगा, जानिए आखिर क्या है पूरा मामला

shyamendra parihar

Publish: Oct, 12 2017 05:13:40 (IST) | Updated: Oct, 12 2017 06:02:18 (IST)

Gwalior, Madhya Pradesh, India
अब सरकारी स्कूलों में कुछ ऐसा शुरू होने जा रहा है जिसे सुनकर आपको यकीन नहीं होगा, जानिए आखिर क्या है पूरा मामला

सरकारी स्कूलों की हालत किसी से छिपी नहीं है, मगर अब सरकारी स्कूलों में कुछ ऐसा होने जा रहा है,जिसे सुनकर आपको यकीन नहीं होगा।

ग्वालियर/श्योपुर। सरकारी स्कूलों की हालत किसी से छिपी नहीं है, मगर अब सरकारी स्कूलों में कुछ ऐसा होने जा रहा है,जिसे सुनकर आपको यकीन नहीं होगा। प्रायवेट स्कूलों की तरह अब सरकारी स्कूलों में भी नर्सरी,एलकेजी और यूकेजी कक्षा शुरू होगी। सरकारी स्कूलों का शैक्षणिक स्तर सुधारने के लिए राज्य सरकारी की ओर से इस तरह की तैयारियां शुरू कर दी है। आगामी शिक्षण सत्र से सरकारी स्कूलों में नर्सरी,यूकेजी और एलकेजी की कक्षाएं लगने की संभावनाएं है।

 

MUST READ : फोटो में दिख रहे 80 साल के इस वृद्ध की पेंशन है २५ हजार फिर भी भिखारियों सा जीवन जीने को है मजबूर, वजह सुनकर नींद उड़ जाएगी


ऐसी संभावनाएं इसलिए दिख रही है कि राज्य सरकार पिछले साल दिल्ली में हुई केंद्रीय समीक्षा बैठक में इस तरह का प्रस्ताव रख चुकी है। वहीं प्रदेश के शिक्षा मंत्री विजय शाह भी एक समारोह के दौरान ये कह चुके है कि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए चौतरफा प्रयास जरूरी हैं। फिलहाल सरकारी स्कूलों में पहली कक्षा से पढाई कराई जा रही हैं,जबकि बेसिक चीजें सीखने के लिए नर्सरी, एलकेजी,यूकेजी जरूरी हैं।

 

MUST READ : 27 साल बाद दीवाली पर बना रहा ये महासंयोग, इस नक्षत्र में करेंगे पूजन तो जरूर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा

 


यही नहीं प्रदेश सरकार अब 10वीं तक की शिक्षा को भी आरटीई के दायरे में लाने की कवायद की जा रही है। ऐसा होने से सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले विद्यार्थियों को कॉन्फिडेंस लेवल बढ़ेगा और वे खुद को प्राइवेट स्कूल में पढऩे वाले बच्चों से कम नहीं आंकेंगे। शिक्षा विभाग के अधिकारियों का मानना है कि यदि सरकारी स्कूलों में नर्सरी,एलकेजी और शुरूआत इन्हीं कक्षाओं का बेस बनने की शुरूआत इन्हीं कक्षाओं से होती है। अगर नींव ही कमजोर रह गई तो हम मजबूत इमारत की कल्पना कैसे कर सकते हैंए इसीलिए हमने यह प्रस्ताव रखा। 10वीं तक की शिक्षा को भी अब आरटीई के दायरे में लाने की पहल की जा रही है।

 

MUST READ : सरकारी जमीन पर लगा ऐसा बोर्ड कि पूरे इलाके में बन गया तनाव की वजह, मामला सुनकर आप भी दंग रह जाएंगे

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned