बहू ने रात में लिखाई दुष्कर्म की रिपोर्ट, सुबह ससुर ने लगा ली फांसी

Gaurav Sen

Publish: May, 18 2018 10:25:30 AM (IST)

Gwalior, Madhya Pradesh, India
बहू ने रात में लिखाई दुष्कर्म की रिपोर्ट, सुबह ससुर ने लगा ली फांसी

ससुराल वालों पर दहेज प्रताडऩा और ससुर दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए बहू ने थाटीपुर थाने में एफआइआर करा दी। रिपोर्ट के छह घंटे

ग्वालियर। ससुराल वालों पर दहेज प्रताडऩा और ससुर दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए बहू ने थाटीपुर थाने में एफआइआर करा दी। रिपोर्ट के छह घंटे बाद ही ससुर घर की दूसरी मंजिल पर टीनशेड के नीचे फांसी पर लटके मिले। घरवालों का आरोप है बहू जेवर लेकर भाग गई थी। ससुर पर झूठी एफआइआर करा दी। इसी से परेशान उन्होंने खुदकुशी की है।


पुलिस के मुताबिक न्यू जीवाजी नगर (थाटीपुर) में रहने वाले कमलेश (परिवर्तित नाम) ने गुरुवार सुबह फांसी लगाई। कमलेश कोर्ट में भृत्य थे। उनकी बहू रात करीब 10 बजे थाटीपुर थाने पहुंची। उसने बताया वह गर्भवती है। 29 अप्रैल को ससुराल वाले शादी में गए थे। जिसका फायदा उठाकर ससुर ने उससे दुष्कर्म किया और जान से मारने की धमकी दी। उसने ससुरालियों पर दहेज प्रताडऩा का आरापे भी लगाया। पुलिस ने ससुर पर दुष्कर्म और पति, सास और देवर पर दहेज प्रताडऩा की एफआइआर कर ली। कमलेश को पता चला तो वे परेशान हो गए। उनके भतीजे ने बताया रात 1 बजे ताऊ रास्ते में मिले तो वो उन्हें घर छोड़ आया। सुबह 4 बजे चचेरी बहन दूसरी मंजिल पर पहुंची तो ताउ ***** के तार का फंदा गले में बांधे फांसी पर झूल रहे थे।

 

नौ साल पहले हुई थी शादी
कमलेश के दो बेटे व एक बेटी है। बड़ा बेटा पुताई का काम करता है। 9 साल पहले उसकी शादी हुई थी। उसके दो बच्चे भी हैं, जबकि छोटा बेटा 11 वीं का छात्र है। बेटी की शादी हो चुकी है। बुधवार को ही मायके आई थी।

 

दूसरे युवक से संबंध
भतीजे ने बताया भाभी के बिरला नगर निवासी एक युवक से संबंध पर ताऊ ने उन्हें डांटा तो ११ मई को भाभी जेवर संग युवक के साथ भाग गईं। बुधवार को बामौर से आकर ताऊ पर रिपोर्ट दर्ज करा दी।

 

बुधवार रात को महिला ने ससुर पर दुष्कर्म की एफआइआर कराई थी। गुरुवार सुबह ससुर फांसी पर लटके मिले। मर्ग कायमकर मामले की जांच की जा रही है।
रविंद्र सिंह गुर्जर, टीआइ थाटीपुर थाना

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned