मकर संक्रांति पर महंगाई लड्डुओं की मिठास करेगी कम

सूर्य आराधना के पर्व मकर संक्रांति की तैयारियां शुरू हो गई हैं। 14 जनवरी को मनने वाली मकर संक्रांति पर तिल से बने व्यंजनों को खाने का विशेष महत्व...

ग्वालियर. सूर्य आराधना के पर्व मकर संक्रांति की तैयारियां शुरू हो गई हैं। 14 जनवरी को मनने वाली मकर संक्रांति पर तिल से बने व्यंजनों को खाने का विशेष महत्व है। इसके चलते एक ओर जहां बाजार में तिल से बने व्यंजन महक रहे हैं वहीं दूसरी ओर इनकी पूछ-परख भी बढऩे लगी है। हालांकि गत वर्ष की अपेक्षा इस बार तिली के दाम बढऩे के कारण इससे बने व्यंजन भी थोड़े महंगे हुए हैं। कुछ कारोबारी पिछले साल के दामों पर ही इनकी बिक्री कर रहे हैं तो कुछ ने दामों को बढ़ा दिया है।

अलग-अलग वैरायटी की बनने लगी गजक
पहले जहां तिल्ली से बनी शक्कर और गुड़ की गजक ही चलन में हुआ करती थी, अब समय के साथ इसमें बदलाव आ गया है। बाजार में चॉकलेट फ्लेवर, ड्रॉयफ्रूट गजक समोसा, कुरकुरे गजक रोल आदि मौजूद हैं। इसके साथ ही मधुमेह के मरीजों को ध्यान में रखते हुए शुगर फ्री (नो कैलोरी) गजक भी उपलब्ध है।

20 रुपए किलो का है अंतर
तिल्ली के दाम पिछले साल 145 रुपए किलो थे, जो इस बार 165 रुपए किलो हो गए हैं। इसके चलते कुछ गजक कारोबारियों ने गजक पर 20 रुपए किलो तक दाम बढ़ा दिए हैं। कारोबारियों की मानें तो मकर संक्रांति से पूर्व गजक की पूछ-परख दिखने लगी है।


ये हैं दाम
खस्ता गजक- 280 से 300 रुपए, शुगर फ्री गजक-480 रुपए, ड्रॉयफ्रूट गजक-480 रुपए, चॉकलेट पंचरत्न बर्फी-440 रुपए, ड्रॉयफ्रूट गजक समोसा-600 रुपए, कुरकुरे गजक रोल-300 रुपए, ड्रॉयफ्रूट गजक रोल-480 रुपए, मावा तिल गजक-400 रुपए, कुटी तिल के लड्डू-340 रुपए, साबुत तिल के लड्डू-280 रुपए, तिल चिक्की-280 रुपए, तिल पापड़ पकवान-440 रुपए, कड़ाकेदार रेवड़ी 240 रुपए, चिप्स रेवड़ी 300 रुपए, मूंगफली की चिक्की 240 रुपए।
(नोट-सभी दाम प्रति किलो के अनुसार हैं)


थोड़ी सी महंगी हुई
इस साल गजक पिछले साल से 7 फीसदी महंगी हुई है। मकर संक्रांति पर तिल के व्यंजनों की विशेष मांग रहती है। अभी तक तो डिमांड कम ही है, पर अब बिक्री बढऩी चाहिए।
महेश राठौर, गजक व्यापारी

पुराने दाम पर बेच रहे हैं
मकर संक्रांति के एक-दो दिन पहले से एकदम से मांग काफी बढ़ जाती है। हमने सादा गजक के दामों में हमने कोई बदलाव नहीं किया है, पिछले साल जैसे ही 280 रुपए किलो बेच रहे हैं।
अंकित पाटिल, गजक कारोबारी

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned