आदेश बेअसर, बेरोकटोक खुल रहीं प्रतिबंधित दुकानें

आदेश का पालन करने वाले दुकानदारों को हो रही आर्थिक क्षति और उल्लंघन करने वाले अर्जित कर रहे आय

By: Vikash Tripathi

Published: 28 May 2021, 12:04 AM IST

भिण्ड. शहर के कई बाजारी इलाकों में प्रतिबंधित दुकानें बेरोकटोक खल रही हैं। ऐसे में उन दुकानदारों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है जो प्रशासन के आदेश का अपनी दुकानें बंद रखकर ईमानदारी से पालन कर रहे हैं। आधा दर्जन से अधिक बाजारी इलाकों में गुरुवार को 200 से ज्यादा प्रतिबंधित दुकानों के दुकानदारों ने खुलेआम सामान बेचा गया।
जानकारी के अनुसार हेयर सैलून, रेडीमेड वस्त्र, हॉजरी स्टोर, जनरल एवं किराना स्टोर के अलावा जूते-चप्पल आदि प्रतिबंधित की गई अन्य दुकानें खुली नजर आईं। बतादें कि करीब तीन दर्जन से ज्यादा दुकानें सदर बाजार इलाके में खुली रहीं। वहीं कृष्णा टॉकीज के पास संचालित दुकानें भी खुली रहीं। इधर हनुमान बजरिया में दो दर्जन से ज्यादा दुकानों के दुकानदार आदेश को ठेंगा दिखाकर ग्राहकों को सामान बेचते रहे। इतना ही नहीं कलेक्ट्रेट कार्यालय के सामने लहार इलाके में तथा अटेर रोड एवं भूता बाजार व लश्कर रोड क्षेत्र में भी प्रतिबंधित दुकानें चलती निरंकुश चलती रहीं। इन्हें रोकने टोकने वाला कोई नहीं था। न तो प्रशासन और न ही पुलिस की टीम द्वारा शहर में भ्रमण कर दुकानदारों पर कार्रवाई की जा रही है। एक तरह से प्रशासन ने मौन स्वीकृति इन दुकानदारों को दे दी है जिसके कारण खुलेआम उल्लंघन होने पर भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।
धूप के कारण कम हो रही भीड़: बतादें कि दुकानें खोलने के बावजूद इन दिनों भीड़ नहीं लग पा रही है। नौतपा के चलते चिलचिलाती धूप के कारण लोग घरों से निकलने में परहेज कर रहे हैं। हालांकि सुबह और शाम के वक्त दुकानों पर ग्राहक देखे जा रहे हैं। दुकानदारों द्वारा आदेश दुकानें खोलकर किए जा रहे कलेक्टर के आदेश के उल्लंघन उपरांत सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने की कोराना गाइडलाइन का पालन भी नहीं किया जा रहा है। ऐसे में संक्रमण बढऩे का खतरा बना हुआ है।

Vikash Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned