ओटीए ने पहली बार एएनओ को दी तिघरा में नेवल ट्रेनिंग

ओटीए ने पहली बार एएनओ को दी तिघरा में नेवल ट्रेनिंग

देशभर से आईं एएनओ 30 सितंबर तक करेंगी प्री कमीशन कोर्स

ग्वालियर। ओटीए (ऑफिसर ट्रेनिंग एकेडमी) की ओर से पहली बार एएनओ (एसोसियट एनसीसी ऑफिसर्स) को आउटडोर एक्टिविटी के लिए तिघरा डैम पर ले जाया गया। वहां उन्हें बोटिंग कराई गई एवं नेवल से जुड़ी जानकारियां दी गईं। यह ट्रेनिंग प्री कमीशन कोर्स के लिए कराई जा रही है, जो 30 सितंबर तक चलेगी। ट्रेनिंग के लिए एएनओ गुजरात, पंजाब, केरल, राजस्थान और बिहार से शामिल हुई हैं। कैप्टन रणजीत सिंह ने बताया की इससे पहले देश में सिर्फ नेवल की ट्रेनिंग कोच्चि की एकेडमी द्वारा दी जाती थी। ओटीए का यह पहला प्रयास है, जो सफल रहा।

जहाज पर रहने वाले हथियारों की दी जानकारी

एक्सपर्ट ने बताया कि जहाज को ऑपरेट करते समय होने वाले नेवल कम्यूनिकेशन के बारे में जानकारी दी। जहाज में मौजूद रहने वाले हथियारों के बारे में बताया। जहाज को जीपीएस और चार्ट वर्क के जरिए मूव कराने का तरीका समझायाजीपीएस काम न करने पर स्टार रीडिंग के माध्यम से दिशाओं का पता लगाने की तरकीब बताई।। पुलिंग ऑर्डर, बोट पार्ट्स को जोड़ना, फायर फाइटिंग, बोट वर्क, शी मैन शिप आदि की ट्रेनिंग दी गई।

इवनिंग में रनिंग एंड अदर एक्टिविटीज

नेवल एएनओ की ट्रेनिंग की शुरूआत सुबह 6 बजे से होती है, जिसमें योग और पीटी कराई जाती है, जिससे ट्रेनीज का स्ट्रेस रिलीज हो। इसके बाद परेड ट्रेनिंग कराई जाती है, जो सुबह 7 से 8 बजे तक चलती है। वहीं इवनिंग में रनिंग और अदर एक्टिीविटी कराई जाती हैं।

हर रोज प्रैक्टिकल के साथ थ्योरी क्लास भी

हर दिन प्रैक्टिकल के साथ ही टे्रनीज की थ्योरी क्लासेज भी होती हैं, जिसमें नेवल के इतिहास के बारे में बताया जाता है। इसमें वॉर, जहाजों के स्पेशलिटी, हथियार एवं शिप मॉडलिंग आदि के बारे में बताया जाता है।

नेक्स्ट ईयर 40 एएनओ होंगी शामिल

कोच्चि में होने वाली ट्रेनिंग के लिए लास्ट ईयर 20 एएनओ शामिल हुए थे। वहीं ग्वालियर में केवल 12 एएनओ ने हिस्सा लिया है। कैप्टन रणजीत सिंह ने बताया की अगले साल 40 नेवल एएनओ को शामिल किया जाएगा। हर दो साल बाद में होने वाले रिफ्रेशमेंट कोर्स के लिए भी नेवल एएनओ शामिल होंगे। इस कोर्स में एएनओ को बेस्ट परफॉर्मेंस होने पर रैंक दी जाती है।

Ad Block is Banned