पेपर था पॉलिटिकल थ्योरी का, लेकिन दे दिया इंटरनेशनल पॉलिटिक्स का

एमफि ल के छात्रों का दोपहर 3.40 बजे से दोबारा हुआ एग्जाम

 

By:

Published: 04 Apr 2019, 01:27 AM IST

ग्वालियर. राजनीति विज्ञान में एमफिल कर रहे छात्रों के पहले सेमेस्टर की परीक्षा में बुधवार को कंटेम्प्रेरी पॉलिटिकल थ्यौरी एंड फिलॉसफी का एग्जाम होना था। दोपहर 2 से 5 बजे तक होने वाले इस एग्जाम को देने के लिए जब छात्र पहुंचे तो पता चला कि विषय बदलकर इंटरनेशनल पॉलिटिक्स कर दिया गया। अचानक विषय बदल जाने से छात्र सकते में आ गए और पेपर देने से इनकार कर दिया। इसके बाद सभी छात्र सीधे कुलसचिव के पास पहुंचे और सही पेपर कराने की मांग की। छात्रों से बात करने के बाद कुलसचिव आईके मंसूरी ने परीक्षा नियंत्रक से बात की फिर विभाग में बात की, छात्रों की बात सही निकलने के बाद अपरान्ह 3.40 बजे से तय विषय का एग्जाम हुआ। जल्दबाजी में दिए गए पेपर में 2017 को काटकर 2018 करके थमा दिया गया। इसको लेकर भी छात्रों में असंतोष दिखा।
फस्र्ट सेमेस्टर की परीक्षा के लिए 23 मार्च को टाइमटेबल घोषित किया गया था। इसमें थर्ड पेपर को विषय बदलकर दिया गया था। इसकी शिकायत जेयू के पूर्व में गोल्डमैडलिस्ट रहे छात्र भारत सिंह सहित रफीक, इरशाद और शिखा ने आवेदन देकर की थी। इसके बाद 24 मार्च को परीक्षा नियंत्रक के पास रिपोर्ट पहुंची, जहां से 28 मार्च को नया टाइम टेबल तय कर दिया गया लेकिन इस बार भी विषय नहीं बदला गया था। बुधवार को जब छात्र परीक्षा देने पहुंचे तो उनसे कहा गया कि जो विषय टाइम टेबल में दर्शाया गया है, उसी की परीक्षा होगी। इसके बाद सभी ने कुलसचिव के पास आकर पूरी बता बताई तब जाकर एग्जाम हो सका।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned