बसों में अन्य राज्यों से आ रहे यात्री, बस स्टैंड पर नहीं हो रही स्क्रीनिंग, न रख रहे लेखा-जोखा

शहर में लगातार कोविड-19 संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। शहर में भले ही मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर लगातार कार्रवाई की जा रही है, लेकिन बस और बस स्टैंडों पर कोई...

ग्वालियर. शहर में लगातार कोविड-19 संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। शहर में भले ही मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर लगातार कार्रवाई की जा रही है, लेकिन बस और बस स्टैंडों पर कोई सुरक्षा व्यवस्था नहीं है। यहां बसों से राजस्थान और उत्तरप्रदेश से यात्री आ रहे, लेकिन न तो उनकी स्क्रीनिंग हो रही है और न ही उनका लेखा-जोखा रखा जा रहा है। बसों में तो कई यात्री बिना मास्क के ही सफर कर रहे है उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।


राजस्थान, उप्र से आ रही बसें
ग्वालियर में धौलपुर, कारौली, इटावा, झांसी, आगरा सहित कई जिलों से बसें आ रही है। ये यात्री बिना रोक-टोक शहर में प्रवेश कर रहे हैं। शहर में रात में भी लंबे रूट की स्पीलर बसें शहर से होकर गुजर रही हैं।


बस स्टैंड पर नहीं हो रही जांच
रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की जांच और आने-जाने की व्यवस्था अलग-अलग की है, जबकि बस स्टैंड पर ऐसी कोई व्यवस्था नहीं है। स्टैंड पर न तो स्क्रीनिंग की व्यवस्था है और न ही सेनेटाइजर की। यहां यात्री बिना रोक-टोक सीधे बसों में सफर कर रहा है। वह कहां से आ रहा है और कहां जा रहे इसका कोई रिकॉर्ड नहीं है।


बिना मास्क के कर रहे सफर
बसों में यात्रियों को चैकिंग भी नहीं की जा रही है। बसों में सोशल डिस्टेंसिंग का तो पालन नहीं हो पा रहे हैं, साथ ही कई यात्री तो बिना मास्क के सफर कर रहे हैं। बस संचालक न तो इनको रोक रहे हैं और न ही प्रशासन इनके खिलाफ कार्रवाई कर रहा है।

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned