पत्रिका एक्सपोज... ऐतिहासिक स्थलों पर अतिक्रमण, पर्यटकों की बढ़ी परेशानी

स्मार्ट सिटी के तहत शहर को खूबसूरत बनाने के लिए प्रशासन पूरी तरह से तैयारी से जुटा हुआ है। लेकिन दूसरी तरफ शहर के ऐतिहासिक स्थल तानसेन का मकबरा हो या फिर रानी...

ग्वालियर. स्मार्ट सिटी के तहत शहर को खूबसूरत बनाने के लिए प्रशासन पूरी तरह से तैयारी से जुटा हुआ है। लेकिन दूसरी तरफ शहर के ऐतिहासिक स्थल तानसेन का मकबरा हो या फिर रानी लक्ष्मीबाई की समाधि स्थल अतिक्रमण की चपेट में हैं। इन ऐतिहासिक स्थलों के सामने हाथ ठेले वालों ने कब्जा कर लिया है, जिससे बाहर से आने वाले पर्यटकों को मुख्य गेट से जाने में परेशानी तो होती है, लेकिन नगर निगम इन पर कार्रवाई नहीं कर रहा है।


रानी लक्ष्मीबाई समाधि
रानी लक्ष्मीबाई समाधि के सामने अब फल और मेवा बेचने वाले ठेले लगाकर खड़े हो जाते हैं। बाहर से आने वाले यहां वाहन नहीं खड़ा कर पाते, इसलिए वे बाहर से देखकर रवाना हो जाते हैं। ठेले खड़े होने से जाम की स्थिति भी बनी रहती है, क्योंकि यहां टेंपो भी खड़े होते हैं। समाधि गेट से कुछ ही दूरी पर स्टैंड बनाया गया है, लेकिन वहां कोई टेंपो नहीं रुकता है।


तानसेन समाधि स्थल
हजीरा स्थित मोहम्मद गौस का मकबरा और तानसेन समाधि स्थल के बाहर गेट पर दुकानदारों की पार्किंग और ठेले वालों का कब्जा है। मकबरे के मुख्य गेट तक जाने पर्यटक को बाहर पार्किंग पर वाहन पार्क करना होगा, लेकिन दुकान से सामान खरीदने के लिए गेट पर वाहन पार्क कर सकते हैं। यहां दुकानदार अपने वाहन खड़ा करते हैं दूसरे वाहनों को खड़ा ही नहीं होने देते और जो जगह बचती है वहां हाथ ठेले खड़े रहते हैं। इसके अलावा समाधि स्थल के आस-पास भी इतना अतिक्रमण है कि चार पहिया वाहन लेकर आप आसानी से नहीं जा सकते हैं।


निगम को हटाना चाहिए
स्मारकों के बाहर सड़क पर खड़े होने वाले इस तरह के ठेले आदि को नगर निगम को हटाना चाहिए, जिससे ऐतिहासिक स्थलों पर आसानी से लोग आ-जा सकें।
केएल डाभी, डिप्टी डायरेक्टर, राज्य पुरातत्व विभाग


शहर में अभियान चल रहा है
शहर की सभी सड़कों से ठेले वालों को हटवाने लगातार अभियान चलाया जा रहा है। जल्द ही लक्ष्मी बाई के सामने लगने वाले ठेले वालों को भी हटवाया जाएगा।
नरोत्तम भार्गव अपर आयुक्त निगम

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned