कैमिस्ट्री की तुलना में फिजिक्स लगा मुश्किल, ओवरऑल पेपर था आसान

- जेईई-मेन्स का दूसरा अटेम्प्ट प्रारंभ, मंगलवार को दोनों पालियों में 998 स्टूडेंट्स ने दिया एग्जाम, 18 मार्च तक चलेगा एग्जाम

By: Narendra Kuiya

Published: 17 Mar 2021, 12:16 AM IST

ग्वालियर. देशभर के एनआइटी, आइआइआइटी सहित दूसरे इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की ओर से जेईई-मेंस की परीक्षा का दूसरा अटेम्प्ट मंगलवार से प्रारंभ हुआ। इसके लिए शहर में एक परीक्षा केंद्र चितौरा रोड स्थित कॉलेज को बनाया गया है। पहले दिन की परीक्षा दो पालियों में संपन्न हुई। पहली पाली में सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक 500 और दोपहर में दूसरी पाली के पेपर दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक हुए, जिसमें 498 स्टूडेंट्स शामिल हुए। जेईई-मेन्स के दूसरा सेशन में 18 मार्च तक एग्जाम होंगे। दो पारियों में बीई-बीटेक प्रवेश के लिए परीक्षा होगी। पहले दिन का पेपर देकर निकले स्टूडेंट्स ने बताया कि कैमिस्ट्रिी की तुलना में फिजिक्स टफ था। ओवरऑल पेपर आसान आया था और परीक्षा को लेकर जो तनाव था, वह पेपर देखने के बाद कम हो गया।

स्टूडेंट्स को मिला पर्याप्त समय
एक्सपर्ट बालेंदु चांदिल के मुताबिक मंगलवार के पेपर में कैमिस्ट्री सिंपल थी, मैथ्स व फिजिक्स दोनों एवरेज रहे हैं। इसमें तीन विषयों के 30-30 क्वेश्चन थे। पर 25-25 क्वेश्चन ही करने थे। क्वेश्चन 11वीं और 12वीं बेस्ड ही थे। स्टूडेंट्स को पेपर देने के लिए पर्याप्त समय मिला है।

सोशल डिस्टेंस का हुआ पालन
जेईई मेंस के एग्जाम के लिए एग्जाम सेंटर पर सोशल डिस्टेंस, सेनिटाइजशन का पूरा पालन किया गया। स्टूडेंट्स को मास्क लगाकर व थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही प्रवेश दिया गया। सेंटर्स पर सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखते हुए सिटिंग अरेजमेंट किया गया था।

Narendra Kuiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned