मदद मांगने आए बच्चों से पुलिस बोली "जब पिटाई हो जाए तब आना"

शराबी पिता से परेशान होकर थाने पहुंचे थे बच्चे, पुलिस के रवैये में नहीं हो रहा सुधार। 

ग्वालियर। पुलिस के आला अधिकारी बार-बार जनता से मधुर संबंध बनाने की बात पर जोर डाल रहे हैं, लेकिन थानों पर पुलिस रवैया सुधार नहीं रहा है। पीडि़तों की सुनवाई करने के बजाए टरका रही है। एेसा ही एक मामला हजीरा थाने का सामने आया है।


शराबी पिता से परेशान बच्चे पुलिस के पास मदद मांगने पहुंचे, लेकिन पुलिसकर्मी मदद करने के बजाए बोले पिता पिटाई लगाए, तब शिकायत करने आना।

थाने पर सुनवाई नहीं हुई तो चारों भाई-बहन मंगलवार को एसपी के पास शिकायत लेकर पहुंचे। राधा कालॉनी निवासी नवीन और उसके तीन भाई-बहन पिता से परेशान हैं। पिता शराब पीने का आदी है। पिता से तंग आकर मां की मौत हो गई। अब पिता उन्हें भी परेशान करता है। हमारी बिना जानकारी के मकान भी बेच दिया है। कुछ लोग घर खाली कराने भी आए। 
इधर, पुलिस पर दुष्कर्म के आरोपी को बचाने का आरोप

 मेरे साथ दुष्कर्म करने वाला आरोपी खुलेआम घूम रहा है। पुलिस को उसके ठिकाने बताए फिर भी उसे गिरफ्तार नहीं किया। अब उसके परिजन मुझे जान से मारने की धमकी दे रहा है। पीडि़ता मंगलवार को एसपी की जनसुनवाई में पुलिस अधिकारियों से मिली। पीडि़ता ने कहा अगर आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया तो वह आत्महत्या करने के लिए मजबूर होगी। पीडि़ता ने बताया सुरेश नगर थाटीपुर निवासी राजू वर्मा ने उसके साथ दुष्कर्म किया था। 31 मार्च को विश्वविद्यालय थाने में उसकी रिपोर्ट दर्ज कराई। लेकिन अभी तक पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर सकी है। जबकि उसके घर, ऑफिस का पता और फोन नंबर भी पुलिस को दिया। इसके बाद भी पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही।
Show More
rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned