जिस्म का धंधा कराने वालों में पुलिसवालों के नाम, 3-5 हजार में खरीदी जाती है लड़कियां

जिस्म का धंधा कराने वालों में पुलिसवालों के नाम, 3-5 हजार में खरीदी जाती है लड़कियां

Gaurav Sen | Publish: May, 21 2019 03:51:36 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

पुलिस पूछताछ में कई नाम आए सामने

ग्वालियर. आनंद नगर में नबालिग लडक़ी के साथ रोजाना जिस्मफरोशी का खेल खेला जाता था। वह विरोध भी करती लेकिन तस्कर दीपक अग्रवाल उसे धमकाकर चुप करा देता था। सूत्रों की मानें तो रोजाना 2 से 3 ग्राहकों को बुलाकर उनके हवाले कर दिया जाता। इसके एवज में 3 से 5 हजार रुपए प्रति ग्राहक वसूले जाते थे। पुलिस ने ग्राहकों की सूची खंगाली तो शहर के एक थाने के एएसआई का भी नाम सामने आया। पुलिस अधिकारियों ने उसे बुलाया तो गलती के लिए माफी मांगने लगा और कई मिन्नतें भी कीं। पुलिस का नाम खराब न हो इसलिए पुलिस उसके नाम पर चुप्पी साधे हुए है। इसके अलावा कई और ग्राहकों के नाम भी सामने आए हैं। बदनामी के डर से उन्होंने भी थाने के चक्कर लगाना शुरू कर दिए हैं।

झांसी से बाइक पर बैठाकर लाए थे लडक़ी को

लडक़ी को झांसी से लाकर बेचने वाले गोलू के पकड़े जाने के बाद थाने लाकर पूछताछ की तो उसने सब सच उगल दिया है। उसने बताया कि वह और उसका साथी लडक़ी को झांसी से बाइक पर बैठाकर लाए थे। वह बाइक चला रहा था। साथी बीच में था और लडक़ी को पीछे बैठाया था। यहां आने के बाद लडक़ी दीपक को 10 हजार में बेच दिया। झांसी का रहने वाला गोलू विकलांग है। उसका हुलिया देखकर कोई यकीन नहीं कर सकता है कि वह इस धंधे में है।

शक्ल देखते ही लडक़ी ने गोलू को पहचाना
झांसी से पुलिस ने जब गोलू को पकड़ा तो वह कहने लगा कि किसी लडक़ी को नहीं जानता। उसे झूठा फंसाया जा रहा है। एक बार उसके हुलिए को देखकर पुलिस ने भी यकीन कर लिया, लेकिन जब ग्वालियर लाकर लडक़ी को गोलू का चेहरा दिखाया गया तो वह झट से पहचान गई। बोली उसे यहां लाकर इसी ने बेचा था। इसके बाद गोलू ने भी सच उगल दिया।

माता-पिता की बीमारी का उठाया फायदा
नाबालिग लडक़ी के परिवार की आर्थिक स्थिति खराब है। पिता सब्जी का ठेला लगाता है। मां बीमार रहती है। गिरोह का सदस्य गरीबी का फायदा उठाकर लडक़ी को अपनी बातों में फंसाकर बोला कि ग्वालियर में उसकी पहचान है। उसे घर के झाडू-पौछा के काम में लगवा देगा। इसके एवज में हर महीने पैसे मिलेंगे जो उनके काम आएंगे लेकिन यहां लाकर उसे बेच दिया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned