त्योहारों पर रेलों की सुरक्षा के लिए पुलिस पटरियों पर करेगी गश्त

रेल पटरियों के किनारे बसी कॉलोनियों, बस्तियों की सुरक्षा और रात में चलने वाली रेल गाडिय़ों में मुसाफिरों के साथ वारदातों पर कंट्रोल के लिए पुलिस अब रेल पटरियों के किनारे भी गश्त करेगी। एडीजीपी राजाबाबू सिंह ने सोमवार को जोन के सभी पुलिस अधीक्षकों को आदेश दिया है

रेल पटरियों के किनारे बसी कॉलोनियों, बस्तियों की सुरक्षा और रात में चलने वाली रेल गाडिय़ों में मुसाफिरों के साथ वारदातों पर कंट्रोल के लिए पुलिस अब रेल पटरियों के किनारे भी गश्त करेगी। एडीजीपी राजाबाबू सिंह ने सोमवार को जोन के सभी पुलिस अधीक्षकों को आदेश दिया है कि वह सुनश्चिित करें कि उनके जिले में जो इलाके रेल पटरियों के किनारे आते हैं वहां जो कॉलोनियां और बस्तियां है वहां सुरक्षा के इंतजाम क्या हैं। इन इलाकों में पुलिस की रोज रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक गश्त होना चाहिए। इसके लिए पुलिस की टीम टॉर्च, सर्च लाइट और हथियारों से लैस होकर पटरियों के किनारे चलेगी। दरअसल हरिशंकरपुरम में घर में घुसकर महिला को बंधक बनाकर डकैती और उसके बाद हमसफर एक्सप्रेस पर पथराव की वारदात ने पुलिस को चुनौती दी है। हरिशंकरपुरम डकैती पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई थी कि सिथौली संदलपुर के पास बदमाशों ने रेल पर पथराव कर दहशत फैला दी।

Show More
रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned