ऊर्जा मंत्री की मीटिंग में बिजली गुल, एई सस्पेंड

ऊर्जा मंत्री की बैठक में बिजली गुल होने का झटका बिजली कंपनी के असिस्टेंट इंजीनियर को लगा, लापरवाही मानकर उसे निलंबित कर दिया गया

By: Nitin Tripathi

Published: 22 Jun 2021, 02:29 AM IST

ग्वालियर. सिटी सेंटर स्थित वन विभाग में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर बैठक ले रहे थे, इसी दौरान बिजली गुल हो गई। ऐसा बार-बार होने पर मंत्री ने बिजली कंपनी के महाप्रबंधक से नाराजगी जताई। जब लाइट जाने का कारण पता चला तो कैप्टन रूपसिंह स्टेडियम फीडर पर पदस्थ सहायक प्रबंधक (एई) सर्वेश चौधरी की लापरवाही सामने आई। महाप्रबंधक ने इस मामले में दोषी पाए गए सहायक प्रबंधक को निलंबित कर तत्काल प्रभाव से उपमहाप्रबंधक संभाग ग्वालियर में अटैच कर दिया है।
जानकारी के अनुसार, रविवार दोपहर को स्टेडियम फीडर पर दो बार ट्रिपिंग आने के कारण यहां की सप्लाई को मोनो पोल पर शिफ्ट कर दिया गया और क्षेत्र की लाइट शुरू कर दी गई। इस दौरान स्टेडियम फीडर पर सुधार कार्य कर दिया, लेकिन लोड को मोनो पोल से वापस फीडर पर शिफ्ट नहीं किया गया। करीब 24 घंटे बाद ओवर लोड होने के कारण मोनो पोल में भी फॉल्ट आ गया।

मोनो पोल पर शिफ्ट किया फीडर इसलिए बिजली गुल
ऊर्जा मंत्री तोमर सिटी सेंटर स्थित वन विभाग में बैठक ले रहे थे और लाइट चली गई। लाइट जाने की जांच की तो शिफ्टिंग की बात सामने आई। महाप्रबंधक और उपमहाप्रबंधक ने मामले की जांच की तो सहायक प्रबंधक सर्वेश चौधरी की लापरवाही सामने आई। उसने फीडर से लाइट हो मोनो पोल पर शिफ्ट की फिर उसके बाद सप्लाई की वापस फीडर पर शिफ्ट नहीं किया जिस कारण मोनो पोल में फॉल्ट आए।

Nitin Tripathi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned