छाप तिलक सबी ठीनी तोसे नैना मिलाइके....

म्यूजिक यूनिवर्सिटी में कथक साधना महोत्सव

राजा मानसिंह तोमर संगीत एवं कला विश्वविद्यालय के कथक विभाग की ओर से 'कथक साधना महोत्सवÓ का आयोजन गुरुवार को किया गया। कार्यक्रम में पहली प्रस्तुति एमए तृतीय सेमेस्टर की छात्रा पूजा मांडिल एवं मीनाक्षी वर्जीनिया द्वारा राग सरस्वती में दी गई, जिसके बोल थे नमस्तुते महामायी श्रीपीठे सुर पूजिते...। दूसरी प्रस्तुति एडवांस डिप्लोमा की छात्रा तान्या जैन द्वारा तीन ताल में जयपुरी घराने की पारम्परिक बंदिशे थाट, आमद, उठान, तोड़-टुकड़े एवं भावपक्ष में सूफी गान प्रस्तुत किया गया, जिसके बोल थे छाप तिलक सबी ठीनी तोसे नैना मिलाइके...। इस अवसर पर विभाग की एचओडी डॉ. अंजना झा, डॉ. सुनील पावगी, मनोज बमरेले, हितेश मिश्रा, विकास विपट उपस्थित रहे।


भाव पक्ष में प्रस्तुत किया गीत
कार्यक्रम में अंतिम प्रस्तुति एमपीए प्रथम सेमेस्टर की छात्रा संदीप तिवारी द्वारा विलम्बित एवं मध्य लय में पंचम सवारी में जयपुर घराने की पारम्परिक बंदिशें थाट, उठान, आमद, तोड़े टुकड़े, द्रुत लय में तीन ताल में तिहाई प्रिमलु एवं भाव पक्ष में गीत प्रस्तुत किया। तबले पर हितेश मिश्रा, हारमोनियम पर मनोज बमरेले एवं पढ़ंत में आस्तिक पाठकर ने संगत की। कार्यक्रम का संचालन कथक विभाग की छात्रा स्वीटी दत्ता ने किया।

Mahesh Gupta
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned