पीआईयू विभाग की लैब में लाखों के उपकरण हो रहे कंडम

पीआईयू विभाग की लैब में लाखों के उपकरण हो रहे कंडम

Parmanand Prajapati | Updated: 14 Jul 2019, 01:44:58 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

पीआईयू विभाग की लैब में लाखों के उपकरण हो रहे कंडम

ग्वालियर. अगर पैसा सरकारी हो तो उसकी कैसे बर्बादी की जाती है। इसके उदाहरण लोक निर्माण विभाग के अफसरों की लापरवाही से देखने को मिल रहे हैं। पहले बदना पुरा मोतीझील में बनी हुई सडक़ को उखडऩे का मामला सामने आया, फिर नाका नंद्रवदनी से न्यू कलेक्ट्रेट वाले रोड पर टूट कर बिखर रहे डिवाइडर की दीवारें सामने आईं और अब मोतीमहल में स्थित सेतू संभाग के कार्यालय के ऊपर बनी हुई लैब का मामला सामने आया है। जहां करीब २० साल पहले सडक़ और निर्माण कार्यों में प्रयोग होने वाली सामग्री की गुणवत्ता जांचने के लिए लाखों रुपए की लागत से मशीनरी खरीदी गईं, ताकि विभाग खुद ही अपनी लैब में सामग्री की टेस्टिंग करवा सके और ठेकेदार द्वारा किए जा रहे गुणवत्ताहीन कार्यों को पकड़ा जा सके।
य ह लैब पिछले १५ वर्षें से बंद पड़ी हुई है। उसके उपकरणों पर धूल की मोटी परत जम रही है, लेकिन उक्त उपकरणों का कोई उपयोग नहीं किया जा रहा है। वर्तमान में यह लैब लोक निर्माण विभाग की पीआईयू शाखा के अधीन है। इसके बावजूद उक्त लैब की सफाई तक नहीं कराई जा रही है। वहीं सेतू संभाग ने इसकी जिम्मेदारी लेने के लिए पीआईयू शाखा को पत्र लिखा लेकिन पीआईयू शाखा के अफसरों ने न तो लैब का उपयोग शुरू किया न ही सेतू संभाग को शुरू करने दिया। इसके चलते शासन के लाखों रुपए खर्च करने के बाद तैयार हुई लैब अनुपयोगी होकर बर्बादी के कगार पर पहुंच रही है। इस मामले में जब पीआईयू शाखा के अधिकारी चुप्पी साध गए।
यह था मामला : पहले यह लैब लोक निर्माण विभाग की थी, फिर एनएच विभाग को ट्रांसफर हुई। इसके बाद एनएच से यह लैब पुन: पीआईयू शाखा को ट्रांसफर हुई। उक्त लैब कागजों में एक विभाग से दूसरे विभाग को ट्रांसफर हुई लेकिन उसका उपयोग नहीं हो सका। वर्तमान में सेतू संभाग का कार्यालय
उक्त लैब के ठीक नीचे संचालित होता है। शेतू के अफसरों ने उक्त लैब को शुरू करने और सेतू विभाग को ट्रांसफर
करने की कार्रवाई भी शुरू की लेकिन पीआईयू शाखा के अफसरों ने कोई निर्णायक कार्रवाई लैब को शुरू करने में नहीं की है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned