रक्षाबंधन पर्व है प्यार और रक्षा के संकल्प का पर्व है

700 मुनियों के चरणों में श्रीफल चढ़ाए

ग्वालियर. रक्षाबंधन पर्व को वात्सल्य दिवस महोत्सव के रूप में आचार्य श्री धर्म भूषण जी महाराज के पावन सानिध्य एवं क्रांतिवीर मुनि श्री प्रतीक सागर जी महाराज के दिशा निर्देशन में ऐतिहासिक रूप से मनाया गया। प्रातः 9:30 बजे अमोल वाली धर्मशाला सामूहिक आहार चर्या संपन्न हुई जिसमें चतुर्विध संघ को डबरा ग्वालियर शिवपुरी के भक्तों द्वारा नवधा भक्ति पूर्वक आहार दान दिया गया ।तत्पश्चात दोपहर 1:30 बजे से आयोजन का प्रारंभ हुआ सर्वप्रथम मंगलाचरण श्री शुभम जैन ग्वालियर आचार्य श्री पुष्पदंत सागर जी महाराज के चित्र का अनावर्ण एवं दीपप्रज्वलन पवन कुमार मामा डवरा श्री मनमोहक नृत्य रक्षाबंधन पर श्री अनु जैन यश जैन सौम्य जैन ने प्रस्तुत किया इस अवसर पर आचार्य श्री एवं मुनि श्री के पाद प्रक्षालन विपिन कुमार सचिन जैन नमन जैन डवरा शास्त्र भेंट श्री वैभव सनत कुमार डवरा ने किया!
चातुर्मास समिति के प्रचार मंत्री सचिन जैन ने बतायाकि जैन समाज के भक्तों ने भक्ति भाव पूर्वक अकंपनाचार्य आदि 700 मुनियों के चरणों में श्रीफल चढ़ाकर अष्ट द्रव्य से संगीत में भक्ति नृत्य करते हुए पूजन की पूजन में प्रमुख राजा पदम बनन कर पूजा कि श्रेयाश जैन आषिश जैन डवरा ।आचार्य श्री धर्म भूषण जी महाराज मुनि श्री प्रतीक सागर जी महाराज आर्यिका कीर्ति मति माताजी आर्यिका प्रशन्न मति माताजी छुल्लक विगुणसागर जी महाराज आदि संतो की पिंछी में तिलक लगाकर आरती उतार कर राखी बांधी गई राखी बधने का सौभाग्य अजित सिघई शिवपुरी ने प्राप्त किया। । जिस मनोरम दृश्य को देखकर सभी भक्तों के मन हर्ष से भर आए ।

राजेंद्र ठाकुर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned