नया सबेरा योजने के पंजीयन धीमे, कैसे में लाभ?

नया सबेरा योजने के पंजीयन धीमे, कैसे में लाभ?
नया सबेरा योजने के पंजीयन धीमे, कैसे में लाभ?

Rajesh Shrivastava | Publish: Sep, 15 2019 08:28:11 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना (नया सबेरा) के जरिये सभी श्रमिकों को लाभ दिये जाने की प्लानिंग की थी।लेकिन प्रशासिनक उदासीनता के चलते पंजीयन का काम बहुत धीमा चल रहा है।

ग्वालियर. प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना (नया सबेरा) के जरिये सभी श्रमिकों को लाभ दिये जाने की प्लानिंग की थी। इस योजना के माध्यम से प्रत्येक श्रमिक को सभी लाभ प्रदान किये जाने हैं। श्रमिकों का पंजीयन करने के लिए सरकार ने सभी जिलों को निर्देश दिये हैं। लेकिन इन निर्देशों का ग्वालियर में ज्यादा प्रभाव नहीं दिख रहा है, यही कारण है कि अभी तक जिले के दस निकाय और जनपद पंचायतों में सिर्फ 22 फीसदी श्रमिकों का ही पंजीयन हुआ है और 21 प्रतिशत श्रमिकों का सत्यापन किया गया है। विभागीय रिपोर्ट के अनुसार जिले के सभी निकायों की 2101199 की जनसंख्या में से 481210 श्रमिक पंजीकृत हैं। इन पंजीकृत श्रमिकों का भौतिक सत्यापन किया जाना अनिवार्य किया गया है ताकि वास्तविक श्रमिकों तक योजनााओं का लाभ पहुंच सके, लेकिन सत्यापन करने का काम इतना धीमा हो रहा है कि अभी तक 103162 श्रमिकों को ही सत्यापित किया जा सका है। 3787767 श्रमिकों का सत्यापन अभी भी लंबित है।
उदासीनता से अटका सत्यापन : श्रमिकों को योजना का लाभ दिलाने के लिए प्रदेश सरकार ने बीते दो महीने के दौरान लगभग हर बैठक में नया सबेरा योजना को लेकर निर्देश दिये हैं। इसके साथ ही अधिकारियों को यह भी हिदायत दी गई है कि भौतिक सत्यापन के काम को जल्द पूरा किया जाए। इसके बावजूद विभागीय कर्मचारी अभी तक एक लाख तीन हजार से अधिक श्रमिकों तक ही पहुंचे हैं।
खास बात यह है कि सत्यापन में सिर्फ 78371श्रमिकों को ही पात्र माना गया है और 24791 श्रमिक अपात्र घोषित किये जा चुके हैं।
- नया सबेरा योजना में सत्यापन सहित अन्य कामों को जल्द पूरा करने के निर्देश दिये जा चुके हैं, इसकी समीक्षा करके पूरी प्रगति जानेंगे।
अनुराग चौधरी, कलेक्टर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned