सेल्समैन ने फर्जी बिल काटकर बेच दिए 15 लाख के टायर

रकम वसूली के लिए दवाब बनाया तो फरेबी ने पैसा देने से मना कर दिया।

 

By: prashant sharma

Updated: 17 Feb 2021, 08:12 PM IST

ग्वालियर. टायर कारोबारी के सेल्समैन ने उसे भरोसे में लेकर करीब 15 लाख का चूना लगा दिया। सेल्समैन करीब एक साल तक फर्जी बिल काटकर गोदाम से टायर बेचता रहा। अब कारोबारी ने हिसाब किताब मिलाया तो टायर गायब मिले। अंदरूनी पड़ताल में पता चला कि सेल्समैन चोरी से टायर बेच रहा था। चोरी पकड़े जाने पर कारोबारी ने रकम वसूली के लिए दवाब बनाया तो फरेबी ने पैसा देने से मना कर दिया।
पवन कालरा निवासी डीबी सिटी ने पुलिस को बताया उनका टायर कारोबार है, शोरूम रोशनी घर पर और गोदाम यातायात नगर में है। शोरूम पर कारोबार वह खुद देखते हैं, गोदाम की जिम्मेदारी लखेरा गली में रहने वाले निखिल दुबे को दे रखी थी। वहां से टायर की खरीद फरोख्त का काम निखिल देखता था। शुरू में निखिल ने इमानदारी से काम किया तो उस पर भरोसा था, लेकिन फिर लालच में आ गया। निखिल को पता था कि सेठ गोदाम पर आते नहीं है तो टायर तो बेचे लेकिन उनका असली बिल नहीं काटा। फर्जी बिल थमा कर टायर बेचता रहा। करीब एक साल तक गोरखधंधा चलाया। अब उन्होंने कारोबार में हिसाब किताब मिलाया तो करीब 15 लाख के टायर का मिलान नहीं हुआ। निखिल से पूछा तो उसका कहना था कि जो टायर बिके हैं उनका लेखा जोखा दे चुका है। उसे नहीं पता कि टायर कहां गए। जब पड़ताल की तो पता चला कि निखिल करीब एक साल से धोखा दे रहा था। उसकी हरकत पकड़ी तो एक मौका भी दिया।
उससे कहा कि जो टायर खुदबुर्द किए हैं उनका पैसा लौटा दो, लेकिन वह राजी नही हुआ तब पुलिस से शिकायत की। बहोड़ापुर पुलिस ने चोरी से टायर बेचने का मामला दर्ज किया है।

prashant sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned