अंधेरा घिरते ही रेत माफियाओं ने किया पुलिस पर पथराव, छुड़ाए रेत के 20 टै्रक्टर-ट्रॉली

Gaurav Sen

Publish: Sep, 17 2017 09:46:21 (IST)

Gwalior, Madhya Pradesh, India
 अंधेरा घिरते ही रेत माफियाओं ने किया पुलिस पर पथराव, छुड़ाए रेत के 20 टै्रक्टर-ट्रॉली

माइनिंग और प्रशासन की संयुक्त टीम ने शनिवार शाम को रेत माफिया पर कार्रवाई कर रेत से भरे 40 ट्रैक्टर-ट्रॉली पकड़े। जब्त किए गए इन ट्रैक्टरों को लेकर कह

 

ग्वालियर।  माइनिंग और प्रशासन की संयुक्त टीम ने शनिवार शाम को रेत माफिया पर कार्रवाई कर रेत से भरे 40 ट्रैक्टर-ट्रॉली पकड़े। जब्त किए गए इन ट्रैक्टरों को लेकर कहां जाएं, इसी असमंजस में दो घंटे निकाल गए। इस दौरान अंधेरा होने पर रेत माफिया के गुर्गों ने टीम पर पथराव कर 20 ट्रॉली छुड़ा लीं। 

बाद में एएसपी और एडीएम शिवराज वर्मा पुलिस बल लेकर मौके पर पहुंचे और खेतों से ट्रॉलियों को जब्त कर लिया, जिसमें तीन ट्रैक्टर रास्ते में खराब हो गए और 13 वाहन थाने पहुंचा दिए। शेष वाहनों की मौके पर ही हवा निकालकर पलट दिया। पथराव में निगम के दो ड्राइवरों को चोट आई है। सिरोल थाना पुलिस में माइनिंग इंस्पेक्टर और नगर निगम अधिकारी ने टै्रक्टर मालिक और ड्राइवर सहित अन्य हमलावरों पर लूट, डकैती, शासकीय कार्य में बाधा सहित अन्य धाराओं के अलग-अलग मामले दर्ज कराए हैं।


हुरावली की ओर आते समय फूटी कॉलोनी के पास सर्वे नंबर ३५६ के अंतर्गत भूपेन्द्र सिंह, मदन सिंह और पहाड़ सिंह की करीब साढ़े तीन बीघा जमीन पर अवैध रूप से रेत का भंडारण किया था। इसके अलावा इस जगह पर रेत की अवैध मंडी भी लग रही थी। कलेक्टर राहुल जैन के निर्देश पर एसडीएम महीप तेजस्वी के नेतृत्व में टीम शनिवार शाम 5 बजे टीम हुरावली पहुंची और करीब 9 लाख रुपए की 300 घनमीटर से अधिक अवैध रेत ट्रैक्टर-ट्रॉली सहित जब्त कर ली। यह कार्रवाई हुए१५ मिनट में पूरी हो गई, लेकिन डेढ़ घंटे तक अधिकारी तय नहीं कर सके कि रेत कहां जाएगी। अंधेरा होने पर रेत माफियाओं ने पथराव कर पुलिस पर हमला बोल दिया। उक्त कार्रवाई के दौरान एसडीएम के अलावा माइनिंग ऑफिसर मनीष पालेवार, नायब तहसीलदार संजीव तिवारी,पटवारी राकेश मिश्रा सहित पुलिस और प्रशासनिक टीम के सदस्य मौजूद थे।


वहीं पुलिस की ओर से भी सहयोग नहीं मिल रहा था। पुलिस ने ड्राइवर को थाने लाने की बात कही। जिस पर निगम इंजीनियरों ने कहा कि ड्राइवर की हालत ठीक नहीं है। उसे उठाकर नहीं लाया जा सकता। इसके बाद मायनिंग अधिकारियों ने पुलिस अफसरों से बात की तब जाकर कानूनी कार्रवाई आगे बढ़ी।

पांच ट्रैक्टर निकलते ही हुआ पथराव
हुरावली से शाम 7 बजे निगम ड्राइवर जब्त ट्रैक्टर-ट्रॉली को लेकर गोला का मंदिर थाने के लिए निकले। कुछ दूरी पर दोनों ओर 40  से 50 लोगों ने इन्हें घेरकर पथराव कर दिया। इस बीच सिरोल थाने की पुलिस मूकदर्शक बनी देखती रही।

हमले में घायल निगम का ड्राइवर
घटना में नगर निगम के ड्राइवर गिर्राज की छाती में पत्थर लग जाने से वह घायल हो गया। उसकी पसलियों में फै्रक्चर आ गया है। करीब शाम 7 बजे के बाद अफसर पहले उसे प्राइवेट अस्पताल में ले गए उसके बाद जेएएच के ट्रोमा सेंटर पहुंचे। जहां रात ११ बजे तक उपचार शुरू नहीं हो पाया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned