फिर कांग्रेस पर बरसे सिंधिया, बोले- 'कांग्रेस के सिद्धांत शून्य, कथनी-करनी में अंतर'

एक दिन के प्रवास पर पहुंचे राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पर बोला बड़ा हमला, गोडसे समर्थक की कांग्रेस में एंट्री पर भी साधा निशाना..

By: Shailendra Sharma

Published: 27 Feb 2021, 05:40 PM IST

ग्वालियर. शनिवार को एक दिवसीय दौरे पर ग्वालियर पहुंचे BJP से राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक बार फिर कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला। सिंधिया ने गोडसे समर्थक बाबूलाल चौरसिया के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस की कथनी और करनी में अंतर है। वो बोलती कुछ है और करती कुछ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सिद्धांत व मूल्य बिल्कुल शून्य हो गए हैं। बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया पंचकल्याणक महोत्सव में शिरकत करने शनिवार को ग्वालियर पहुंचे थे।

 

5 राज्यों के चुनावों में बीजेपी की जीत का दावा
वहीं देश के पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर पूछे गए सवाल पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सभी राज्यों में बीजेपी की जीत का दावा किया। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पांचों राज्यों में बीजेपी का परचम जनता लहराएगी और पीएम नरेन्द्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह व राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के मार्गदर्शन पर पांचों राज्यों में बीजेपी सरकार बनाएगी।

vishwas_1.png

गोडसे समर्थक की कांग्रेस की एंट्री पर मचा सियासी गदर
बता दें कि गोडसे समर्थक बाबूलाल चौरसिया की कांग्रेस में एंट्री पर मध्यप्रदेश की सियासत में सियासी गदर मचा हुआ है। एक तरफ जहां कांग्रेस में इसे लेकर अंदरुनी कलह मची हुई है तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी भी इसे लेकर लगातार कांग्रेस पर निशाना साध रही है। शनिवार को ही ग्वालियर दौरे पर पहुंचे प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भी बाबूलाल चौकसे के कांग्रेस में शामिल होने पर चुटकी ली है। मंत्री सारंग ने कहा है कि गांधी जी का सरनेम चुराकर उनके विचारों को तिलांजलि देने का काम कर रही है कांग्रेस। कांग्रेस में मची अंदरुनी कलह पर मंत्री ने कहा कि हम तो पहले से कहते हैं आए हैं कि कांग्रेस की कथनी और करनी में अंतर है। जिस गांधी के सरनेम को चुराकर नेहरू परिवार ने देश में 70 साल तक राजनीति की उसी गांधी के विचारों को तिलांजलि देने का काम कांग्रेस के नेता करते आए हैं। उन्होंने आगे कहा कि केवल टोपी पहन लेने से और सरनेम गांधी कर लेने से गांधीगिरी नहीं होगी। सारंग ने कहा कि कांग्रेस हमें जवाब न दे पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव को मौजूदा प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ जबाव दे दें। जिसके जवाब में दिग्विजय सिंह ने मंत्री पलटवार करते हुए कहा है कि अगर विश्वास सारंग को गांधी जी से इतना ही प्यार है तो वो बीजेपी छोड़कर कांग्रेस ज्वाइन कर लें।

देखें वीडियो- BOMB से उड़ाई BUILDING

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned