शिवराज का राहुल पर हमला, कहा- कांग्रेस में सत्य कहने वालों को गद्दार कहा जाता है

शिवराज ने कहा- ऐसी पथभ्रष्ट कांग्रेस को कोई बचा नहीं सकता है।

By: Pawan Tiwari

Published: 24 Aug 2020, 06:09 PM IST

ग्वालियर. ग्वालियर के फ़िज़िकल कॉलेज सभागार में आयोजित भाजपा के सदस्यता ग्रहण समारोह के दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला। शिवराज ने कहा- कांग्रेस नेताओं ने पत्र लिखा कि पूर्णकालिक अध्यक्ष चाहिए, तो राहुल गांधी कहने लगे कि ये गद्दारी है। सत्य कहने वालों को कांग्रेस में गद्दार कहा जाता है। ऐसी पथभ्रष्ट कांग्रेस को कोई बचा नहीं सकता है।

कांग्रेस ने बंद की योजनाएं
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा- प्रदेश के गरीबों के कल्याण और प्रदेश के विकास की जितनी योजनाएं थीं, कांग्रेस ने बंद कर दी थी। गरीबों, किसानों, युवाओं को ठगने वाली कांग्रेस सरकार को प्रदेश की जनता जवाब देगी। कमलनाथ जी से जब भी प्रदेश विकास और जनकल्याण के कार्यों के लिए बात की जाती थी, तो पैसे का रोना रोने लगते थे। प्रदेश का विकास और जनकल्याण ही मेरे जीवन का ध्येय है। मैं पैसे का रोना नहीं रोऊंगा।

सिंहासन के लिए नहीं बनाई सरकार
सीएम ने कहा- सत्ता के स्वर्ण सिंहासन के लिए हमने सरकार नहीं बनाई है। हमने सरकार प्रदेश के विकास और जनता के कल्याण के लिए बनाई है। प्रदेश की जनता के सुख में ही मेरा सुख है। जनता के कल्याण में हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। मैं आपसे आग्रह करने आया हूं कि भारतीय जनता पार्टी को भारी मतों से विजयी बनाकर जनता के कल्याण और प्रदेश विकास के कार्यों के लिए मार्ग प्रशस्त कीजिए।

राहुल भैया ने ऐसे वादे किये कि लोग लट्टू हो गये। किसानों से कह दिया कि दस दिन में कर्जा माफ होगा, नहीं तो मुख्यमंत्री बदल दूंगा। न किसानों का कर्जा माफ हुआ और न युवाओं से किया रोजगार और बेरोजगारी भत्ता देने का वादा पूरा हुआ।

हम गरीब परिवारों की बेटियों की शादी के लिए 25 हजार रुपये देते थे। कमलनाथ जी ने कहा कि हम 51 हजार रुपये देंगे। शादी के बाद बेटियां मां बन गई हैं, लेकिन कमलनाथ जी आज तक बेटियों के खाते में कन्यादान की राशि नहीं पहुंचा सके हैं। मेरे भाई-बहनों, मध्यप्रदेश का समुचित विकास और जनता का कल्याण केवल भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है। आपसे आग्रह है कि इस बार भाजपा को इतने वोटों से जिताना कि पिछले सभी रिकॉर्ड टूट जायें।

Congress Jyotiraditya Scindia
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned