सुबह से दोपहर तक खामोशी, फिर बाजारों में निकले लोग

राउंड द क्लॉक सुरक्षा, दो हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात रहे

पुनीत श्रीवास्तव@ग्वालियर । हजरत पैगंबर का जन्मदिन रविवार को पूरी तरह शांति से मनाया गया अयोध्या प्रकरण के बाद दो दिन से शहर की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है इसलिए रविवार सुबह से ही सभी धार्मिक स्थलों पर पैरा कहां रखा गया। जिन लोगों पर तकरीर होना थी वहां आयोजकों ने ही परिवार को ऐलान कर दिया था की धारा 144 लागू है इसलिए ना तो जुलूस निकालेंगे और ना ही तकरीर करेंगे। शांति बनाए रखने के लिए सुबह 7बजे से पुलिस फोर्स बलवा ड्रिल लेकर सडक़ों पर आ गया था पुलिस अधिकारी भी देर रात घर लौटे थे और सुबह जल्दी उठकर फील्ड में आ गए। उधर शनिवार को पुलिस की शहर में सख्ती का असर दूसरे दिन भी लोगों में दिखा। रविावर सुबह से दोपहर तक सडक़ों पर आवाजाही कम रही। दोपहर करीब दो बजे के बाद बाजारों भी भीड बढी।
बाजार सडक़ों और धार्मिक स्थलों पर फोर्स तैनात रहा सादा ले बाद में पुलिस की सूचना संकलन और खुफिया विभाग के कर्मचारी भी मोहल्ले गलियों बस्तियों और संवेदनशील इलाकों में घूमते रहे हर स्थिति से निपटने के लिए पुलिस लाइन ऑफ कंट्रोल रूम में रिजर्व फोर्स भी मौजूद रहा।
10 नवंबर को मिलादुन्नबी पर सुबह से ही कई जगहों पर जुलूस निकलने थे और तकरीर पूना थी इसलिए कई लोग बाहर से भी आने वाले थे लेकिन शनिवार रात को प्रशासन ने इन कार्यक्रम के आयोजकों के साथ बैठक कर तय कर लिया था की धारा 144 लागू है इसलिए ऐसे आयोजन नहीं हो सकते हैं तो आयोजक भी मान गए हजरत पैगंबर का जन्म दिन शांति से मनाएंगे।

Puneet Shriwastav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned