साठवीं पीढ़ी के गुड्डू बना रहे कालीन

20 लोगों की टीम तीन माह में तैयारी कर पाती है एक कालीन


ग्वालियर.

अपने पूर्वजों की परम्परा को जीवित रखते हुए भदोई (यूपी) के गुड्डू आज भी कालीन बना रहे हैं। यह कालीन वह देशभर में एग्जीबिशन व मेले में लेकर पहुंचते हैं। वह कॉलीन सेल करने के साथ ही लोगों को इसके बनाने के तरीके से भी परिचित कराते हैं। एक कालीन को 20 लोग मिलकर तीन माह में तैयार कर पाते हैं। गुड्डू साठवीं पीढ़ी के हैं। उनके पूर्वजों की बनाई कालीन काशी नरेश के दरबार में बिछती थीं। इन दिनों शिल्पकार गुड्डू फैसिलिटेशन सेंटर के समीप अपनी शॉप लगाए हैं, जो सैलानियों के बीच आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है।

परम्परा को जीवित रखने छोड़ी नौकरी
गुड्डू चार भाई हैं। इनमें से दो ग्रेजुएट हैं। इनमें से एक भाई की नौकरी भी लगी, लेकिन वह केवल इसलिए नौकरी में नहीं गया कि उसका परम्परागत काम देखने वाले कम हो जाएंगे। उनके यहां कालीन बनाने का काम होता है। पूरे परिवार के साथ अन्य लोग भी कालीन बनाने में लगे हुए हैं।

ईरान के लोगों ने सिखाई थी तकनीक
गुड्डू ने बताया कि हमारे पूर्वजों के अनुसार लगभग 500 साल पहले ईरान के लोगों का काफिला भदोई में कुछ समय के लिए रुका और उन्होंने कालीन बनाई, जिसे गांव के लोगों ने सीख लिया और वहीं से कालीन बनाने की शुरुआत हो गई। कालीन को बेहतर तरीके से बनाने में ईरान से आए लोगों ने काफी साथ दिया। पहले यह प्योर हाथ से तैयार होती है, अब टेक्नोलॉजी कुछ एडवांस हो गई।

राज दरबार से निकलकर घरों तक पहुंची कालीन
समय को देखते हुए कालीन की डिजाइन और क्वालिटी में अंतर आया है। पहले से क्वालिटी कमजोर हुई है, क्योंकि महंगाई को देखते हुए लोग पैसे देने वाले नहीं बचे हैं। आज कालीन राजा महाराजाओं के दरबार से निकलकर घरों तक पहुंच गई है। गुड्डू हैंड नॉटेड, हैंड टफ्टेड कालीन बनाने में मशहूर हैं। वह 4-30, 12-60, 9-60, 7-52 क्वालिटी की कालीन बनाते हैं।

पांच चरणों में तैयार होती है कालीन
जितनी लंबाई की कालीन तैयार की जाती है, हैंडलूम पर उतना ही लंबा ताना खींचा जाता है। सबसे पहले धुनाई की जाती है। इसके बात धागा काता जाता है। फिर बाइंडिंग होती है और फिर फिनिशिंग होती है। यानि पांच चरणों के बाद कालीन तैयार होता है, जिसे अलग-अलग साइज में तैयार करने में 3 से 9 माह तक का समय लगता है।

Mahesh Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned