दुश्मन को फंसाने की साजिश रचने वाला हथियार तस्कर पकड़ा

तस्दीक के लिए गांव ले गई पुलिस

पुनीत श्रीवास्तव@ग्वालियर। अवैध हथियार के धंधे में दुश्मन को फंसाने की साजिश रचने वाले मास्टरमाइंड राकेश शर्मा को एसटीएफ रविवार को तस्दीक के लिए गोरमी में उसके घर ले गई। पूछताछ में राकेश से 315 बोर के 10 कारतूस मिले हैं। परेशानी है कि गिरफ्त में आने के बाद ही राकेश ने खुद को हार्ट पेशेंट बता दिया है। इसलिए चाहकर उससे सख्ती से पूछताछ नहीं हो सकी है। एसटीएफ निरीक्षक चेतन सिंह ने बताया कि तस्कर राकेश से यह पता लगाने की कोशिश है कि वह आर्रोली, भिण्ड निवासी रिकंू गुर्जर को क्यों फंसाना चाहता था। इसके लिए उसने अपने ही गुर्गे ज्ञानसिंह निवासी पथरिया के बारे में ही एसटीएफ को खबर दी कि वह पांच तमंचे और ७० कारतूस की खेप लेकर बस से जा रहा है उसे पकड़ो। सप्लायर ज्ञानङ्क्षसह पकड़ा गया तो उसने राज खोल दिया कि हथियार तो राकेश शर्मा ने ही दिए थे लेकिन यह कहा था कि पकडे जाओ तो रिंकू गुर्जर का नाम पुलिस को बताना इसके एवज में ५० हजार रुपए देगा। अब राकेश शर्मा यह नहीं बता रहा है कि गहरी चाल के पीछे उसका मकसद क्या है। रविवार को एसटीएफ की टीम उसके घर गोरमी ले गई। वहां घर की तलाशी में १० कारतूस मिले हैं।
आरोपी राकेश शर्मा पुलिस का मुखबिर रहा है, इसलिए बचने के तमाम पैंतरे भी जानता है।

Puneet Shriwastav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned